जालंधर, जेएनएन। कोरोना वायरस का संक्रमण रोकने के लिए शुक्रवार से पंजाब से बाहर जाने के लिए बस सर्विस उपलब्ध नहीं होगी। पंजाब सरकार की ओर से लिए गए फैसले के मुताबिक शुक्रवार रात 12 बजे से पंजाब में प्रत्येक तरह की (सरकारी एवं निजी) बस सर्विस पर रोक लागू हो जाएगी। आपात स्थिति से निपटने के लिए भी रोडवेज ने तैयारियां कर ली हैं। पंजाब रोडवेज के प्रत्येक डिपो में 20 ड्राइवरों को तैयार रखा जाएगा।

पंजाब रोडवेज के डिप्टी डायरेक्टर परनीत सिंह मिन्हास ने कहा कि बस सर्विस बंद करने संबंधी वीरवार को फैसला ले लिया गया है। बस सर्विस बंद करने के लिए शुक्रवार रात 12 बजे का समय इस वजह से लिया गया है कि जो बसे पंजाब से बाहर गई हुई हैं, वह शुक्रवार रात तक वापस लौट आएंगी।

शुक्रवार को मात्र वही बसें चलाई जाएंगी, जो शाम होने तक वापस डिपो में पहुंच जाएंगी। अगर बसों को दिल्ली, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, राजस्थान, उत्तराखंड आदि राज्यों में भेजा जाता है तो बसें शाम तक वापस पहुंच नहीं पातीं।बसों के साथ पंजाब में ऑटो भी बंद रखने का फैसला लिया गया है। साइकिल व टैक्सी सर्विस पर फ‍िलहाल रोक नहीं लगाई गई है। 

पांच-पांच के समूह में रखे जाएंगे ड्राइवर

शुक्रवार रात 12 बजे के बाद पंजाब रोडवेज प्रबंधन किसी भी आपात स्थिति से निपटने के लिए प्रत्येक डिपो में 20 ड्राइवरों को हर समय तैयार रखेगा। ड्राइवरों को पांच-पांच के समूह में ही रखा जाएगा। पंजाब रोडवेज जालंधर एक के जनरल मैनेजर नवराज बातिश ने बताया कि वीरवार को दोपहर के बाद यात्रियों की संख्या न के बराबर ही हो गई। इस वजह से पंजाब रोडवेज को दिल्ली भेजे जाने वाली वॉल्वो बस सर्विस तत्काल बंद कर देनी पड़ी। उन्होंने कहा कि अगर देर शाम तक दिल्ली जाने वाले यात्रियों की संख्या में कुछ इजाफा हुआ तो फिर जरूरत के मुताबिक वॉल्वो रवाना भी की जा सकती है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

Posted By: Satpaul

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!