जालंधर, जेएनएन। पंजाब सरकार द्वारा प्याज की भंडारण सीमा तय करने के बाद बड़े कारोबारियों ने नया पैंतरा निकाल लिया है। अब प्याज को गोदाम या दुकान पर स्टोर करने की बजाय छोटे व्यापारी के साथ पूरे ट्रक की डील की जा रही है। यही कारण है कि भंडारण सीमा की जांच करने के लिए मकसूदां मंडी सहित जिले के कई मंडियों में कई दिनों तक छापेमारी करने के बाद भी खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के हाथ खाली हैं।

दरअसल, देश में प्याज की पैदावार के लिए सबसे बड़ी मंडी नासिक में बेमौसमी बारिश से प्याज की फसल बुरी तरह से प्रभावित हुई है। इस कारण देशभर में प्याज की आपूर्ति का संकट है। परिणामस्वरूप प्याज के दामों शतक पार कर चुके हैं। जनता व सरकार के लिए भी बड़ी परेशानी का कारण बन चुके महंगे प्याज की जमाखोरी व कालाबाजारी रोकने के लिए पंजाब सरकार ने प्याज की भंडारण सीमा तय की है। थोक कारोबारी 250 क्विंटल व रिटेल कारोबारी 50 क्विंटल तक प्याज रख सकता है। सरकार द्वारा नियम निर्धारित करने के साथ ही खाद्य एवं आपूर्ति विभाग को इसकी जांच की जिम्मेदारी दी है।

उधर, नियम निर्धारित होते ही बड़े कारोबारियों में हड़कंप मच गया है। कानून से बचने के लिए व्यापारियों ने प्याज को गोदाम या फिर दुकान पर रखने की बजाए सीधे रिटेल कारोबारियों को सप्लाई करना शुरू कर दिया है।

एक दिन पहले ही हो जाती है बुकिंग

प्याज के बड़े कारोबारी एक दिन पहले ही रिटेल कारोबारियों से प्याज की बुकिंग कर लेते हैं। मंडी में ट्रक पहुंचने पर उसे अनलोड करने की बजाय सीधे आसपास के स्टेशनों पर रिटेल कारोबारियों को सप्लाई कर देते हैं।

कारोबारियों की आमद का रिकॉर्ड जांचेंगे

इस बारे में खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के जिला अधिकारी नरिंदर सिंह बताते हैं कि मामला उनके ध्यान में नहीं है। इसके लिए कारोबारियों की आमद का रिकॉर्ड चेक करके बनती कार्रवाई की जाएगी।

रूट के मुताबिक हो रही बुकिंग

प्याज की बुकिंग रूट के मुताबिक होती है। मिसाल के तौर पर भोगपुर रूट पर टांडा, दसूहा, मुकेरियां से पठानकोट तक के रिटेल कारोबारियों के लिए माल की बुकिंग करके सीधे ट्रक ही भेज दिया जा रहा है। इससे वह भंडारण सीमा से भी बच जाते है व माल की बिक्री भी मनमाने दामों पर की जाती है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!