जागरण संवाददाता, जालंधर : बच्चों को विदेश ले जाकर देह व्यापार में धकेलने के मामले में नाम आने पर बस अड्डा के पास सहोता कांप्लेक्स में स्थित केपी टूर एंड ट्रैवल एजेंसी के संचालक बलराज ने खुद पर लगे आरोपों को बेबुनियाद बताया है। बलराज ने बताया कि उन्होंने खुद दिल्ली में सीबीआइ के दफ्तर में पेश होकर कहा कि उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने संबंधित के टिकट जरूर बुक किए थे। सीबीआइ ने उन्हें गिरफ्तार नहीं किया है, बल्कि वह वहां पर शनिवार को अपना पक्ष रखने खुद गए थे।

उन्होंने कहा कि जालंधर स्थित उनके कार्यालय पर भी किसी तरह की कोई सीबीआइ रेड नहीं हुई है। कार्यालय भी शनिवार को दिन भर खुला रहा। दोस्त रिश्तेदार कुशलक्षेम जरूर पूछते रहे।  पुलिस विभाग की सीआइडी विंग के अधिकारी भी एजेंसी आकर जानकारी जुटाते रहे। उन्होंने कहा कि मेरे खिलाफ कोई केस दर्ज नहीं हुआ है और न ही सीबीआइ ने मुझे गिरफ्तार किया है।

नासा के लिए मैंने फर्जी बच्चे नहीं भेजे : बलराज

बलराज ने कहा कि 2017 को जालंधर के ही एक व्यक्ति तिलक राज के संपर्क में वह आए थे। तिलक राज स्कूलों के बच्चों के लिए नासा व अन्य प्रतिष्ठित संस्थानों के एजूकेशन टूर करवाने में दलाल की भूमिका में काम करता था। तिलक राज ने जालंधर के एक स्कूल के चार बच्चों को अमेरिका में नासा के एजूकेशन टूर पर ले जाने का कहकर बच्चों की अमेरिका के लिए चार हवाई टिकटें उनसे कटवाईं थी। बलराज ने कहा कि बच्चों की टिकट बनाने के अलावा उनका इस मामले से कोई लेना देना नहीं। उन्हें नहीं पता कि फर्जी बच्चों की टिकट कटवाई गई है। इस संबंध में मकसूदां थाने में एक मामला भी दर्ज किया गया था।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!