मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जेएनएन, जालंधर। कैप्टन सरकार में इसी महीने दूसरी बार मंत्रिमंडल का विस्तार किया जाना है। मंत्री बनने की इच्छा रखने वाले जालंधर के विधायकों ने अपने नंबर बनाने के लिए चंडीगढ़ से दिल्ली तक की दौड़ शुरू कर दी है। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि पिछली सरकारों में जालंधर जिले को मंत्रिमंडल में जगह मिलती रही है। इस बार पहला मौका था जब जालंधर से एक भी विधायक को मंत्रिमंडल में शामिल नहीं गया था। सरकार नए विधायकों को मंत्री बनाकर सीनियर विधायकों को नाराज नहीं करना चाहती है। अब जैसे ही मंत्रिमंडल में जालंधर से एक विधायक के शामिल करने की बात सामने आई है तो जालंधर के तीन विधायक चंडीगढ़ व दिल्ली के चक्कर लगा रहे हैं।

लॉबिंग जुटे विधायक

मंत्रिमंडल में शामिल होने को लेकर जहां एक विधायक ने चंडीगढ़ में डेरा जमा लिया है तो दो विधायक दिल्ली में हाईकमान के पास अपने नंबर बनाने में लगे हुए हैं। अब देखना यह होगा कि कैप्टन के मंत्रिमंडल में किस विधायक को शामिल किया जाएगा व किसका सपना टूट कर बिखर जाएगा।

परगट सिंह बन सकते हैं मंत्री

पांच विधायकों वाले जालंधर जिले में से विधायक परगट सिंह का नाम ही इस सूची में शामिल किए जाने की चर्चा जोरों पर है। पहले मंत्रिमंडल में उनके नाम पर मुहर नहीं लगी थी। इसके पीछे कारण उनका पिछला चुनाव अकाली-भाजपा से जीता जाना बताया जा रहा था। दूसरा बड़ा कारण था कि कांग्रेस सीनियर नेता जो लगातार विधायक बनते आ रहे हैं, उनकी अनदेखी करके पार्टी राजनीतिक संकट से बचना चाहती थी। शेष चारों विधायक पहली बार चुनाव जीते हैं, ऐसे में उनकी संभावना ना के बराबर बताई जा रही है।

पिछली कांग्रेस सरकार में जिले से छह मंत्री थे

2002 से 2007 में बनी कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में जालंधर से छह मंत्री बनाए गए थे। इनमें अवतार हेनरी, मोहिंदर सिंह केपी, गुरकंवल कौर, कंवलजीत सिंह लाली, चौधरी जगजीत सिंह, संतोख सिंह चौधरी शामिल थे। 2007 से 2017 तक रही अकाली-भाजपा सरकार में मनोरंजन कालिया एवं अजीत सिंह कोहाड़ मंत्री रह चुके हैं, जबकि 2012 की सरकार में कोहाड़ के अलावा भगत चुनी लाल तथा सरवन सिंह फिल्लौर भी मंत्री पद पर रह चुके हैं। भाजपा में 2007 व 2012 में जालंधर से केडी भंडारी सीपीएस, 2012-17 में पवन कुमार टीनू सीपीएस रहे चुके हैं।

यह भी पढ़ें: राहुल से मिलने दिल्ली गए कैप्टन, मंत्री पद के दावेदारों की हलचल बढ़ी

Posted By: Kamlesh Bhatt

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!