जेएनएन, जालंधर/होशियारपुर। दो हैवानों ने अपनी हरकतों से इंस‍ानियत को शर्मसार कर दिया। एक के अपनी मुंहबोली बेटी को दुष्‍कर्म का शिकार बना दिया। दूसरे ने तो दरिंदगी की सारी हदें पार कर दी आैर म‍हज 10 माह की बच्‍ची से दुष्‍कर्म कर डाला। पहली घटना हाेशियारपुर जिले के हरियाना क्षेत्र में हुई और दूसरी वारदात जालंधर की है। 15 साल की मुंहबोली बेटी गर्भवती हो गई है।

मुंहबोले पिता ने 15 साल की लड़की को बनाया गर्भवती

हाेशियारपुर के हरियाना क्षेत्र के गांव नौशहरा के एक व्यक्ति ने एक नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म किया होशियारपुर की 15 वर्षीय लड़की ने बताया कि उसे गांव नौशहरा के इस व्‍यक्ति ने अपनी मुंहबोली बेटी बनाया हुआ था। इस कारण वह उनके घर पर आती जाती रहती थी। कुछ महीने पहले आरोपी ने लड़की को उसकी मां को यह कह कर गांव ले आया कि उसकी पत्नी की आंखों का ऑपरेशन होना है इसलिए घर पर खाना बनाने वाला कोई नहीं है। लड़की के घर पर आने पर उसका स्वास्थ्य खराब हो गया।

लड़की के अनुसार, आरोपी उसे हरियाना से दवाई दिलाने की बात कह कर ले गया। इस दौरान वह लड़की को अपने खेतों में मोटर वाले कमरे में ले गया और वहां उससे दुष्कर्म किया। उसने इस बारे में किसी को बताने पर  जान से मार देने की धमकी दी। अगले ही दिन लड़की अपने घर आ गई। उसने डर से इस बारे में किसी को कुछ नहीं बताया।

यह भी पढ़ें: ऐसे चमकती है किस्‍मत, पंजाब का मजदूर बन गया रातोंरात करोड़पति

 

6 सितंबर को लड़की के पेट जब अचानक दर्द होने लगी तो उसने घटना के बारे में अपनी मां को बताई। डॉक्‍टर से जांच कराने पर लड़की गर्भवती निकली। इसके बार परिवार के लाेगों ने लड़की को साथ लेकर पुलिस में शिकायत दी। थाना हरियाना पुलिस ने पीडि़त लड़की के बयान पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

 

यह भी पढ़ें: अद्भूत है इस शख्‍स की रिक्शाचालक से प्रिंसिपल बनने की कहानी, हौसला देती है यह दास्‍तां

------

चिकन विक्रेता ने किया दस माह की बच्ची से दुष्कर्म, गिरफ्तार

जालंधर के गाजीगुल्ला में एक चिकन विक्रता ने हैवानियत की सभी हदें पार कर दीं। उसने दस माह की बच्ची से दुष्कर्म किया। थाना डिवीजन नंबर 2 ने बच्ची की मां की शिकायत पर आरोपित चिकन विक्रेता लाल बहादुर को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आगे की कार्रवाई के लिए मेडिकल रिपोर्ट का इंतजार कर रही है।

एक महिला ने पुलिस थाने में दी शिकायत में कहा कि उसके दो बेटे और एक दस महीने की बेटी है। उसके दोनों बेटे स्कूल में पढ़ते हैं। वीरवार दोपहर को वह स्कूल की छुट्टी के समय बेटों को लेने गई थी। इस बीच वह अपनी दस महीने की बेटी को पास ही मीट की दुकान चलाने वाले लाल बहादुर के पास छोड़ गई। बच्ची का परिवार लाल बहादुर को जानता था।

यह भी पढ़ें: 12 साल बाद पत्नी बन गई बहन और पति को बांध दी राखी, अब पैदा हुई अजीब हालत

 

महिला ने बताया कि वह बच्चों को लेकर जब वापस आई तो लाल बहादुर ने बच्ची उसे सौंप दी। उस समय बच्ची जोर जोर से रो रही थी और उसके शरीर से खून बह रहा था। वह तुरंत बच्ची को डॉक्टर के पास ले गई। वहां पता चला कि उसके साथ गलत काम हुआ है। एसीपी दलबीर सिंह बुट्टर ने कहा कि बच्ची की मां की शिकायत पर केस दर्ज कर आरोपित लाल बहादुर को गिरफ्तार कर लिया गया है। मेडिकल रिपोर्ट आने के बाद पुलिस आगे की कार्रवाई करेगी।

आरोपित और पीडि़त परिवार मूल रूप से नेपाल के

मूल रूप से नेपाल का रहने वाला लाल बहादुर करीब एक साल पहले इलाके में रहने आया था। कुछ समय पहले ही उसने मीट की दुकान खोली थी। पीडि़त परिवार भी मूलरूप से नेपाल का ही रहने वाला बताया जा रहा है।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sunil Kumar Jha