जागरण संवाददाता, जालंधर

चरनजीतपुरा में रहने वाली एक महिला से शनिवार देर रात करीब साढ़े आठ बजे दो युवकों ने चेन छीन ली। महिला के शोर मचाने पर लोगों ने चेन छीनकर भागते एक युवक को पकड़कर पहले तो जमकर पीटा और फिर पुलिस के हवाले कर दिया। आरोपित पीएपी का निलंबित मुलाजिम निकला। इस दौरान उसका साथी मौके से फरार होने में सफल हो गया।

मूल रूप से पश्चिम बंगाल की निवासी शैफाली माझी अभी चरनजीत पुरा में रहती हैं। उन्होंने बताया कि वह शनिवार देर शाम भगवान वाल्मीकि गेट से घर लौट रही थी। जैसे ही वह साई दास स्कूल के सामने स्थित डाक्टर के क्लीनिक पर पहुंची तो दो युवकों ने उसके गले में पहने सोने की चेन छीन ली। महिला के शोर मचाने पर लोगों ने एक युवक को पकड़ लिया। थाना दो के प्रभारी सेवा सिंह ने बताया कि महिला की शिकायत पर एक आरोपित के खिलाफ केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया गया है। गिरफ्तार आरोपित की पहचान गुरदासपुर के मनी पनवा निवासी लवप्रीत उर्फ लव के रूप में हुई है। लवप्रीत पीएपी का निलंबित मुलाजिम है। पुलिस की पूछताछ में लवप्रीत ने अपने साथी का नाम हरविदर सिंह बताया है, जोकि पीएपी का मुलाजिम बताया जा रहा है। उसकी पहचान के लिए पुलिस प्रयास कर रही है। चार महीने पहले हुआ था निलंबित लवप्रीत

जांच में यह सामने आया है कि लवप्रीत को चार महीने पहले चंडीगढ़ में दर्ज हुए एक मुकद्दमे के चलते निलंबित किया गया था। पुलिस की मानें तो लवप्रीत नशे का आदी है और उसे पहले भी दो बार सस्पेंड किया जा चुका है। लवप्रीत के पास से खिलौना पिस्तौल और हरविदर सिंह नाम के एक पुलिस मुलाजिम का आइ कार्ड बरामद हुआ है। खुद को पुलिस मुलाजिम बताकर लोगों पर बना रहा था दबाव

जिस समय लोगों ने लवप्रीत को पकड़ा तो उस समय वह खुद को पुलिस मुलाजिम बताते हुए लोगों पर दबाव बनाने की कोशिश करने लगा। इस दौरान उसने लोगों को पर्स में रखा आइ कार्ड भी दिखाया। पुलिस आइ कार्ड की जांच कर रही है।

Edited By: Jagran