मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

जागरण संवाददाता, जालंधर। सूर्या एन्क्लेव एक्सटेंशन में टूटी मेन सीवरेज लाइन को सोमवार को भी शुरू नहीं किया जा सका है। रविवार रात दो बजे तक टीमें काम पर लगी रहीं। सुपर सक्शन मशीन से काफी मलबा निकाला गया है लेकिन मैनहोल को ज्यादा नुकसान होने और सुपर सक्शन मशीन के साथ काम कर रहे कारीगर को नुकसान की आशंका के मद्देनजर काम रोक दिया गया। सोमवार सुबह पंजाब वाटर सप्लाई एवं सीवरेज बोर्ड के इंजीनियर्स को भी बुलाया गया।

निगम के एसई सतिंदर कुमार ने कहा कि सीवरेज बोर्ड बड़े मैनहोल बनाने और ठीक करने में एक्सपर्ट है इसलिए उनकी मदद ली जा रही है। मैनहोल को ठीक करने के लिए सीवरेज बोर्ड के साथ प्लानिंग कर रहे हैं। अगर सुपर सक्शन मशीन से और मलबा निकालने की कोशिश करते तो मैनहोल को भी नुकसान हो सकता था और काम कर रहे लोगों के लिए भी रिस्क था। इसलिए रात को काम रोक दिया है और अब नए सिरे से प्ला¨नग कर रहे हैं। एक हफ्ते से टूटी लाइन को ठीक करने का काम सिरे नहीं चढ़ रहा है। यहो दो मैनहोल क्षतिग्रस्त थे और एक को ठीक करने के समय दूसरे में डिच लगने से ज्यादा नुकसान हुआ है। यह सीवरेज करीब 17 साल पहले डाला गया था लेकिन मैनहोल चारों तरफ से कवर नहीं किए गए थे। अगर मैनहोल कवर जमीन से ऊपर न होते तो नुकसान न पहुंचता।

हालात का जायजा लेने मेयर भी पहुंचे
सोमवार को मेयर जगदीश राजा भी सूर्या एन्क्लेव में टूटी सीवर लाइन को ठीक करने के काम का जायजा लेने पहुंचे। मेयर ने एसई स¨तदर कुमार से कहा कि सीवरेज लाइन को ठीक करने के लिए जो भी किया जा सकता है वह किया जाए। यह काम जल्द से जल्द होना चाहिए। बरसात के कारण सीवर लोगों के लिए परेशानी का कारण बन रहे हैं। उन्होंने कहा कि टीम ने अपने लेवल पर अब तक जो भी किया है उससे लोगों को राहत मिली है लेकिन इसे पक्के तौर पर ठीक कर दिया जाए। निगम कमिश्नर दीपर्वा लाकड़ा और एडीशनल कमिश्नर जतिंदर जोरवाल ने फोन पर ही काम की रिपोर्ट ली।

पंपिंग सेट से प्लाटों से निकाला पानी
सूर्या एन्क्लेव एक्सटेंशन में जिस जगह से 42 इंच की सीवरेज लाइन टूटी है, उस प्वाइंट से पहले सीवरेज के एक मैनहोल की दीवार को तोड़कर सीवर को ओवर फ्लो होने से रोका जा रहा है। प्लाटों में पानी काफी ज्यादा भर जाने के कारण चार ट्रैक्टर लगाकर पानी को बाईपास करके निकाला जा रहा है। एसई सतिंदर कुमार ने बताया कि बरसात के कारण पानी ज्यादा हो गया था जिस कारण पानी किशनपुरा समेत कई कॉलोनियों में सीवरेज के बैक मारने का खतरा बन गया था। ट्रैक्टर से पानी निकाले जाने के कारण सीवरेज में पानी का लेवल काफी डाउन चला गया है।

20 से ज्यादा ट्यूबवेल से पानी की सप्लाई घटाई
सूर्या एन्क्लेव में सीवरेज लाइन टूटने के कारण सीवर ओवर फ्लो रोकने के लिए किशनपुरा, बलदेव नगर, अजीत नगर समेत 30 कालोनियों में पानी की सप्लाई कम की गई है। 20 से ज्यादा ट्यूबवेल से सुबह और शाम को पानी की सप्लाई एक-एक घंटा कम की गई है। इससे इन इलाकों में पानी की कमी से लोग भी परेशान है। अभी ऐसे हालात 10 से 15 दिन और रह सकते हैं।

मेयर ने कहा - सीवरेज बोर्ड की लापरवाही
मेयर जगदीश राजा ने मौके पर हालात देखते के बाद कहा कि सीवरेज बोर्ड की लापरवाही के कारण ऐसे हालात हुए है। मैनहोल को पूरी तरह से कवर किया होता तो ऐसी नौबत न आती। उन्होंने कहा कि यह जगह भी इंप्रूवमेंट ट्रस्ट के अधिकार में आती है लेकिन लोगों की मुश्किल को देखते हुए सारा काम नगर निगम के खर्च पर करवाया जाएगा। अफसरों को कह दिया है कि जो भी जरूरत हो उसके मुताबिक काम किया जाए।
 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!