जेएनएन, जालंधर। पंजाब में फैले नशे की रोकथाम की अवाज उठाते हुए एपीजे कॉलेज ऑफ फाइन आ‌र्ट्स के स्टूडेंट्स ने डाक्यूमेंटरी रिलीज की। इन छात्रों को हाल ही में मां-बेटी की कहानी पर आधारित 'आटे की चिड़ी' डाक्यूमेंटरी को राष्ट्रीय पुरस्कार से नवाजा गया है। छात्र बिनीत दीवान, शुभम वर्मा, गौरव लूथर के साथ प्रोडयूसर वरुण वर्मा की इस फिल्म को पंजाब भाजपा के पूर्व प्रधान कमल शर्मा, पंजाबी सिनेमा की प्रमुख कलाकार सोनिका चौहान ने डाक्यूमेंटरी को रिलीज किया।

छात्र बिनीत दीवान ने का कि पंजाब में नशा इस कदर फैल गया है कि उसकी वजह से कोई व्यक्ति अकेला नहीं बल्कि उसके साथ उसका परिवार भी बर्बादी के दलदल में फंस जाता है। इसलिए ही जागरूकता का संदेश फैलाने के उद्देश्य से यह डाक्यूमेंटरी तैयार की गई। कमल शर्मा ने कहा कि पंजाबियों ने सदैव देश की रक्षा की लड़ाई खुद लड़ी है। उसी तरह पंजाब में इस नशे की लड़ाई को नौजवान लड़ेंगे। पंजाब में बच्चों को पारिवारिक संस्कार देने का चलन घटने से ही नशा बढ़ा है।

एक्ट्रेस सोनिका चौहान ने कहा स्टूडेंट्स ने इस तरह की शुरुआत समाज के लिए बहुत बड़ी मिसाल पैदा की है, जिसका श्रेय इनके परिवारों को जाता है। सोनिका ने कहा पंजाब के नौजवान देश भक्ति का नशा करेंगे तो भारत विश्व गुरु बनेगा। इस मौके पर पूर्व विधायक केडी भंडारी, महिंदर भगत, विनोद शर्मा, रमन पब्बी, अमरजीत सिंह अमरी, पूर्व मेयर सुनील ज्योति, सुभाष सूद, अश्वनी दीवान हैप्पी, भगवंत प्रभाकर, कंवलजीत सिंह बेदी, सुशील शर्मा, मनोहर धवन, वरुण शर्मा, राजीव ढींगरा, अमित भाटिया, संजीव मनी, मनीष विज, अशोक सरीन हिक्की, आशीष सहगल, गौरव राय, परेश कपूर, कंवलजीत कपूर, श्रीराम जग्गी थे।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!