जासं, जालंधर। फार्मूला वन कार, सोलर कार, फोल्डिंग साइकिल, इलेक्ट्रिक ट्री साइकिल, इलेक्ट्रिक स्पाइडर तैयार करके सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट आफ इंजीनियरिंग एंड टेक्नोलाजी के छात्रों ने अपनी प्रतिभा का लोहा मनवाया है। इंस्टीट्यूट के  इंजीनियरिंग छात्रों द्वारा तैयार किए गए इनोवेटिव और यूनिक प्रोजेक्ट्स के लिए मैकेनिकल और सिविल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट ने सीनियर डिजाइन प्रोजेक्ट शोकेस का आयोजन किया गया। इसमें छात्रों ने वाहनों में फार्मूला वन कार, सोलर कार आदि प्रदर्शित किए। 

इनमें बैटरी की मदद से अन्य कारों की तरह सफर किया जा सकता है। इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स अपनी प्रतिभा का नमूना दिखाते हुए फोल्डिंग साइकिल, इलेक्ट्रिक साइकिल, इलेक्ट्रिक स्पाइडर आदि दिखाया और पर्यावरण को ध्यान में रखकर बने होम आटोमेशन सिस्टम, मेन्युअली आपरेटेड पंप, सोलर ग्रास कटर आदि की प्रदर्शनी लगाई।

सोलर कार प्रदर्शित करते हुए सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट की कार।

इस अवसर पर छात्रों को प्रोत्साहित करने के लिए मैनेजिंग डायरेक्टर प्रो. मनहर अरोड़ा, कालेज प्रिंसिपल डा. गुरप्रीत सिंह सैनी, पालिटेक्निक प्रिंसिपल डा. किरपाल सिंह भुल्लर विशेष रूप से उपस्थित हुए। उनका स्वागत मैकेनिकल डिपार्टमेंट के एचओडी जतिंदर कुमार, सिविल डिपार्टमेंट के एचओडी सतिंदरजीत सिंह ने किया। 

बैटरी के साथ चलने वाली कार प्रदर्शित करते हुए सेंट सोल्जर इंस्टीट्यूट के प्रतिभाशाली छात्र। 

मैनेजिंग डायरेक्टर प्रो. अरोड़ा, कालेज प्रिंसिपल डा. सैनी ने बताया कि इस प्रदर्शनी का मुख्य उद्देश्य छात्रों द्वारा किए गए कार्यों को प्रोत्साहित करना और नए छात्रों को उनके सीनियर द्वारा की मेहनत दिखाकर उन्हे भी आगे चलकर कुछ अलग बनाने के लिए प्रेरित करना था। सेंट सोल्जर ग्रुप के चेयरमैन अनिल चोपड़ा, वाइस चेयरपर्सन संगीता चोपड़ा ने छात्रों और स्टाफ मेंबर्स की मेहनत की सराहना करते हुए कहा कि यह छात्र भविष्य निर्माता हैं और छात्रों की मेहनत उनके जज्बे और लगन को बखूबी दर्शाती है।

Edited By: Pankaj Dwivedi