जागरण संवाददाता, जालंधर : राज्य में शिक्षा और खेल नीतियों का एक नया रोड मैप तैयार होना चाहिए। शिक्षा के साथ-साथ खेलों का होना जरूरी है। उक्त बात शिक्षा व खेल मंत्री परगट सिंह ने शनिवार को डीएवी यूनिवर्सिटी में आयोजित एक समारोह में बतौर मुख्यातिथि के रूप में कही। शिक्षा मंत्री परगट सिंह का स्वागत यूनिवर्सिटी के चांसलर डा. पूनम सूरी, डा जसबीर ऋषि, कार्यकारी निदेशक राजन गुप्ता, रजिस्ट्रार डा के एन कौल, डीन डा आरके सेठ और उप निदेशक खेल डा यशबीर सिंह ने किया। इस दौरान खेल मंत्री परगट सिंह ने यूनिवर्सिटी के परिसर में चल रहा क्रिकेट मैच देखा और खुद बल्लेबाजी भी की।

इन विद्यार्थियों को किया सम्मानित

जूडो की खिलाड़ी संयोगिता सिंह, प्राची पंवार, यशवीर सिंह विक्रम सिंह, घुड़सवारी में आकाश, ताइक्वांडों में सैयद ताहा, तमन्ना धीमान, पावर लिफ्टिंग में रोशनी, आदेश, रोहित, खो-खो में नवीन कुमार, अरुण, हैप्पी, हरप्रीत कौर को सम्मानित किया। खेल मंत्री ने प्लेसमेंट में विभिन्न कपंनियों में चयनित विद्यार्थी माधव शर्मा, अयान चावला, भूपेंद्र सिंह, गुरसुमित, राहुल कुमार, अंकुर धीमान, मीशा, पूजा, विशाल मारवाह, तरंग, सचिन खन्ना, सुशील वासन, अंकुश कोचर, रोहित, शिवानी, अक्षय, बृजेश सोंधी, कणव, अर्जुन महाजन, सुचित्रा वोहरा, गुरशरण माहे, शुभम मेहता, अमन पटियाल, हरप्रीत कौर, मोहित शर्मा, अमृतरूप कौर और देवाशीष धीमान को भी सम्मानित किया।

Edited By: Jagran