शाहकोट, जेएनएन। श्री गुरु नानक देव जी के 550वें प्रकाशोत्सव को समर्पित भारत में पहली साउथ एशियन ड्रैगन बोट रेस करवाई जा रही है। ये रेस पवित्र काली बेईं के सुल्तानपुर लोधी में 22 से 24 अक्टूबर तक करवाई जाएगी। यह जानकारी साउथ एशियन ड्रैगन बोट फेडरेशन के अध्यक्ष ने नई दिल्ली में 6 देशों के नुमाइंदों की नवीनता रटरीट हाउस में हुई बैठक के दौरान दी। इस दौरान उन्होंने कहा कि ड्रैगन बोट रेस में दक्षिणी एशिया के नेपाल, भूटान, बंगला देश, श्रीलंका, अफगानिस्तान तथा देश के हर राज्य के युवाओं की भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी।

यह रेस ड्रैगन बोट फेडरेशन ऑफ इंडिया द्वारा संत बलबीर सिंह सीचेवाल के सहयोग के साथ साउथ एशियन ड्रैगन बोट फेडरेशन के नेतृत्व में करवाई जा रही है। सुल्तानपुर लोधी में संत सीचेवाल वाटर स्पो‌र्ट्स सेंटर चला रहे संत बलबीर सिंह सीचेवाल की ओर से इस बैठक में शामिल हुए। सेवादार गुरविंदर सिंह बोपाराए और कोच अमनदीप सिंह खैहरा का फेडरेशन ने स्वागत किया। इस बैठक दौरान संत सीचेवाल ने सेवादारों ने जानकारी दी कि इस खेल मेले के दौरान आ रहे खिलाड़ियों की रिहाइश, शाकाहारी खाना, ट्रांसपोर्ट, मेडिकल सहित सभी शुरुआती सहूलियत एक ओंकार चेरिटेबल ट्रस्ट सीचेवाल की ओर से संगत के सहयोग से दी जाएंगी।

इस मौके गुरविंदर सिंह ने बताया कि एनआरआइ एडवोकेट हरमिंदर सिंह ढिल्लो द्वारा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ड्रैगन बोट से बच्चों को दिए अभ्यास का फायदा यह हुआ है कि पंजाब की टीम पहली बार नेशनल ड्रैगन बोट रेस में आगे आ रही है।
 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!