वंदना वालिया बाली, जालंधर : 9वें जागरण फिल्म फेस्टिवल में अभिनेता सोनू सूद और अर्जुन रामपाल के अंदर आते ही दर्शक खूब उत्साहित हो गए। युवाओं ने हूटिंग की। इसके बाद जब दोनों स्टेज पर पहुंचे तो तालियों की गड़गड़ाहट से उनका स्वागत किया गया। अपनी फिल्म पलटन के बारे में उन्होंने दर्शकों के साथ कई महत्वपूर्ण जानकारियां सांझी की। इसके बाद लोगों के सवालों के जवाब दिए और खूब हंसी मजाक किया। सोनू ने कहा कि ऐसे फिल्म फेस्ट लोगों तक बेहतरीन व मी¨नगफुल सिनेमा पहुंचाते हैं। साथ ही नए कलाकारों, टेक्नीशियन्स व डायरेक्टर्स के लिए एक बढि़या प्लेटफार्म भी है। उन्हें बढि़या मौका मिलता है अपना टैलेंट दिखाने के लिए।

अर्जुन रामपाल ने कहा कि जागरण का यह फेस्टिवल अलग-अलग शहरों में जाता है जो एक यूनीक कांसेप्ट है और अच्छे सिनेमा व कलाकारों की पहुंच भी समाज के हर वर्ग तक होती है। जेएफएफ में हुई लोगों से बातचीत के बारे में इन अभिनेताओं का कहना था कि अच्छा लगा कि जालंधर के दर्शकों में फिल्मों को लेकर इतनी जागरूकता है। उनसे भी काफी कुछ सीखने को मिला हमें। यहां के यूथ को मिलकर लगा कि देश का भविष्य सुरक्षित हाथों में है। अगले साल दो पंजाबी फिल्में बनाना चाहता हूं : सोनू सूद

पंजाब के मोगा में पले बढ़े सोनू ने कहा कि मैं बेहतरीन स्क्रिप्ट्स के इंतजार में हूं। मेरी इच्छा है कि अगले साल ही दो फिल्में प्रोड्यूस करूं और उनमें स्वयं अभिनय भी करूं। पंजाबी सिनेमा की पहुंच पूरे विश्व में है। अनेक बॉलीवुड एक्टर पंजाबी फिल्में कर रहे हैं तो पंजाबी होने के नाते मैं इसे अपना फर्ज समझता हूं कि इसमें अपना भी योगदान दूं। पंजाबी सिनेमा के लिए सोनू सूद ने संदेश दिया कि फिल्मों में जीवन से जुड़े मुद्दों को ज्यादा लें और बंदूकों व ¨हसा वाले गीतों से तौबा कर लें। पुश्तैनी नाता है पंजाब से : अर्जुन रामपाल

मेरे दादा ब्रिगेडियर दुर्गा दास अमृतसर के थे और नाना गुरदयाल ¨सह नवाशहर से थे। मेरे कजन्स लुधियाना में भी बसे हुए हैं। इसी कारण मेरा पंजाब से पुराना नाता है। यहां के हरे-भरे खेत, कल्चर, फूड, स्टाइल और सबसे अधिक लोगों का अपनापन, सभी कुछ मुझे बहुत आकर्षित करता है। पर अमृतसर से आते हुए जैसा कि मुझे आज बताया गया पंजाब में ड्रग्स की समस्या बहुत बढ़ गई है, करप्शन काफी ज्यादा है, तो मुझे लगता है कि ऐसे धब्बों से हम इस प्रदेश की बेहतरीन बातों को धूमिल कर रहे हैं। इनसे उभर जाना चाहिए प्रदेश को। उन्होंने बताया कि जल्द ही चार अन्य फिल्में फ्लोर पर आएंगी। इनमें से एक हॉरर फिल्म है। इस क्षेत्र को पहले एक्सप्लोर नहीं किया था। इसके अलावा एक बायोपिक, एक एडवेंचर और एक अन्य एक्शन फिल्म है। रियलिस्टिक सिनेमा करने में मुझे ज्यादा आनंद आता है।

Posted By: Jagran