जालंधर, जेएनएन। चोरी के केस में तीन महीने पहले जमानत पर आए रिटायर्ड हेड कांस्टेबल के बेटे को चोरी के सात लैपटॉप, दो मोबाइल और एक बाइक के साथ गिरफ्तार किया है। आरोपित फगवाड़ा के गांव रानीपुर कबोआ का रहने वाला बिजली मकैनिक हरप्रीत सिंह उर्फ हैप्पी (32) है। हरप्रीत के पिता कुछ साल पहले ही पीएपी से हेड कांस्टेबल रिटायर्ड हुए हैं। बेटे की गलत आदतों के कारण उन्होंने उसकी अपने घर में आने पर भी पाबंदी लगाई हुई है।

हरप्रीत अपनी पत्नी और एक छोटी बेटी के साथ गांव में ही रहता है। एसीपी कैंट मेजर सिंह ने बताया कि पुलिस को सूचना मिली थी कि उक्त आरोपित दीपनगर में रहते निजी यूनीवर्सिटी के छात्रों को निशाना बना उनके पीजी से लैपटॉप व अन्य इलेक्ट्रोनिक्स का सामान चोरी करता है। इस पर चौकी परागपुर के इंचार्ज नरिंदर मोहन ने अपनी टीम के साथ सोमवार शाम को उसे बिना नंबर की बाइक समेत काबू किया। उसकी निशानदेही पर सात लैपटॉप और दो मोबाइल और एक बाइक बरामद की गई।

30 से 50 हजार का लैपटॉप चोरी करके दो से तीन हजार में बेचता था

हरप्रीत ने बताया कि नशे की लत को पूरा करने के लिए वह 30 से 50 हजार रुपये की कीमत के चोरी किए लैपटॉप को महज दो से तीन हजार रुपये में बेच देता था। बिजली मकैनिक होने के कारण काम पर जाते समय उसे आसानी से पता चल जाता था कि दीपनगर में कौन सा छात्र किस पीजी में रहता है और उसके पीजी से आने-जाने का समय क्या है। इसके बाद वह वहां पर चोरी कर मौके से फरार हो जाता था।

एक घर से आठ तोले सोना चुराने पर बंद था जेल में

हरप्रीत कपूरथला के थाना सतनामपुरा के क्षेत्र महेड़ू में 15 अक्टूबर 2018 को ताला बंद घर को निशाना बना चुका है। उस समय घर का मालिक ट्रैक्टर मकैनिक केवल सिंह परिवार के साथ शादी समारोह में गया हुआ था। इस दौरान आरोपित ने उक्त घर के ताले तोड़कर वहां अलमारी में रखीं सोने के दो चेन, आठ अंगूठियां, एक टॉप्स सैट, एक बालियों का सैट सहित टेबल में रखा मोटोरोला मोबाइल चोरी कर लिया था। मामले की जांच के बाद पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार किया था। इसी मामले में वह तीन माह पहले ही जेल से जमानत पर बाहर आया था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!