जेएनएन, जालंधर। श्री गुरु नानक देव जी की फोटो पर आपत्तिजनक शब्दावली का इस्तेमाल करने की वीडियो वायरल होने के बाद कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा के खिलाफ कार्रवाई के लिए दबाव बढ़ता जा रहा है। सोमवार को रंधावा के खिलाफ आधा दर्जन से अधिक सिख संगठनों ने मोर्चा खोल दिया। गुरदासपुर में भी सिख संगठनों ने पुलिस को शिकायत दे गिरफ्तारी की मांग की। एसजीपीसी, डीएसजीपीसी और शिरोमणि अकाली दल ने भी रंधावा के खिलाफ कठोर कार्रवाई की मांग की है। करीब आधी दर्जन संगठनों ने श्री अकाल तख्त साहिब में अधिकारियों को रंधावा के खिलाफ ज्ञापन सौंपा और उन्हें श्री अकाल तख्त साहिब पर तलब कर उन पर कार्रवाई की मांग की।

जत्था सिर लत्थ खालसा, अकाल खालसा दल, बाबा बुड्ढा जी सभा, गुरमत ग्रंथी सभा, बाबा दीप सिंह शिरोमणि गतका अखाड़ा, दशमेश तरना दल, जत्था 6 जून, बाबा बाज सिंह मिसल के पदाधिकारी बाबा नरायण सिंह, सुरिंदर पाल सिंह, सर्बजीत सिंह हरपाल सिंह, सरदूल सिंह, भूपिंदर सिंह, सुखवंत सिंह हरकीरत सिंह, सतनाम सिह अकाली, अमरजीत सिंह, परमजीत सिह अकाली और दिलबाग सिंह ने श्री अकाल तख्त साहिब पर ज्ञापन सौंपने के बाद कहा कि रंधावा ने गुरु नानक देव जी से सीएम की तुलना करके सिख कौम को गहरी ठेस पहुंचाई है।

गुरदासपुर में सिख संगठनों ने डीएसपी हेडक्वार्टर राजेश कक्कड़ को शिकायत दे धारा 295ए के तहत मामला दर्ज कर रंधावा को गिरफ्तार करने की मांग की। जत्थेदार सतनाम सिंह सूच ने कहा कि अगर कोई भी कार्रवाई नहीं की गई तो राज्य स्तरीय संघर्ष शुरू किया जाएगा। उधर, एसजीपीसी ने रविवार को ही रंधावा के खिलाफ श्री अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से सख्त कार्रवाई की मांग की थी। एसजीपीसी के वरिष्ठ उपप्रधान भाई रजिंदर सिंह मेहता ने कहा था कि कैबिनेट मंत्री रंधावा ने गुरु नानक देव जी का अपमान करके छोटी मानसिकता का प्रमाण दिया है।

दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष मनजिंदर सिंह सिरसा ने भी श्री अकाल तख्त साहिब के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह से अनुरोध किया था कि वह रंधावा के खिलाफ सख्त कार्रवाई करें। शिअद नेता व पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया और पूर्व कैबिनेट मंत्री दलजीत सिंह चीमा ने रंधावा को मंत्री पद से हटाने और इस मामले में हाईकोर्ट के जज की तरफ से जांच करने की भी मांग की थी।

कैबिनेट मंत्री रंधावा वायरल वीडियो के बारे में दे चुके हैं सफाई

कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा ने वायरल वीडियो मामले में रविवार को एक चैनल के खिलाफ एसएसपी बटाला को शिकायत देने के साथ100 करोड़ रुपये की मानहानि का लीगल नोटिस भेजा था। रंधावा ने शिकायत में कहा था कि एक राजनीतिक पार्टी के इशारे पर उक्त चैनल ने उन्हें बदनाम किया है। उन्होंने वीडियो में अपनी आवाज होने से भी इन्कार किया। साथ ही कहा कि यह वीडियो दो साल पुरानी है। जांच के बाद सब स्पष्ट हो जाएगा।

यह था मामला

सोशल मीडिया पर वायरल वीडियो में कैबिनेट मंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा श्री गुरु नानक देव जी की तस्वीर हाथ में लेकर मजाक उड़ाते दिख रहे हैं। उन्होंने इस तस्वीर के माध्यम से कैप्टन अमरिंदर की तुलना गुरु नानक देव जी के साथ की थी।

माफी मांगें रंधावा : धुम्मा

दमदमी टकसाल के प्रमुख बाबा हरनाम सिह धुम्मा ने श्री गुरु नानक देव की फोटो पर आपत्तिजनक टिप्पणी की वायरल वीडियो पर कड़ा एतराज जताया है। उन्होंने कहा कि रंधावा की तरफ से उपयोग किए शब्द निंदनीय है। रंधावा माफी मांगे।

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!