जालंधर, जेएनएन। मां दुर्गा के प्रथम स्वरूप मां शैलपुत्री की आराधना के साथ शनिवार को शारदीय नवरात्र का आगाज हुआ। इसको लेकर जहां शहर के मंदिरों में कई दिन पहले से ही तैयारियां की गई थी। वहीं, मां के भक्तों ने घरों में कलश स्थापित करके खेत्री की बिजाई की। कोरोना वायरस महामारी के चलते एक दिन पहले शहर के अधिकतर मंदिरों में सैनिटाइज किया गया था। वहीं, नवरात्र को लेकर बाजारों में उमड़ी रौनक से मंदी के बादल भी छंट गए थे।