रूपनगर/आनंदपुर साहिब, जेएनएन। लंगर की सब्जी के बिलों के घोटाले के मामले में शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी (एसजीपीसी) ने तख्त केसगढ़ साहिब के मैनेजर समेत 5 कर्मचारियों को सस्पेंड कर दिया है। एसजीपीसी अध्यक्ष गोबिंद सिंह लोगोंवाल ने यह फैसला मंगलवार देर रात लिया है। एसजीपीसी की तरफ से गठित की गई जांच कमेटी में उपरोक्त मुलाजिमों के खिलाफ कार्रवाई के लिए अध्यक्ष को सिफारिश की गई थी। सस्पेंड किए गए मैनेजर की जगह पर गुरदीप सिंह कंग को नया मैनेजर नियुक्त किया गया है।

बताया गया है कि  एक अप्रैल से 24 जून तक, करीब तीन महीने के समय के दौरान लंगर और स्टोर के बिलों की जांच में यह गड़बड़ी मिली थी। इसके अलावा लंगर की सामग्री में भी अंतर पाया गया है। जांच टीम के मुख्य इंस्पेक्टर गुलजार सिंह की जांच टीम ने स्टोर की जांच में रिकॉर्ड के अनुसार कम सामान होने के कारण मौके पर स्टोर को 20 हजार का जुर्माना भी किया था। उन्होंने शिरोमणि कमेटी के मुख्य सचिव को रिपोर्ट सौंपी थी जिसके बाद कार्रवाई की गई।

बीबी किरणजोत कौर ने एसजीपीसी को कठघरे में खड़ा किया था

गड़बड़ी सामने आने के बाद SGPC की सदस्य बीबी किरणजोत कौर ने SGPC को कटघरे में खड़ा किया है। सोशल मीडिया पर पोस्ट डालकर बीबी किरणजोत कौर ने कहा था कि यह बड़े शर्म की बात है कि तख्त श्री केसगढ़ साहिब की लंगर में लाखों रुपये का घपला सामने आया है। इसके बाद पंथक क्षेत्रों में नई चर्चा छिड़ गई थी।

 

 

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!