जासं, जालंधर। गत 21 अक्टूबर को देहात की सीआईए स्टाफ पुलिस ने पतारा से शहर में चोरी करने वाले गैंग के तीन सदस्यों को गिरफ्तार करते हुए शहर में हुई एक दर्जन से अधिक चोरी की वारदातों को सुलझाया था। गैंग की गिरफ्तारी के बाद जिन वारदातों का खुलासा हुआ था, उनमें से अधिकतर थाना डिवीजन छह और सात के क्षेत्र में अंजाम दी गई थी। इस गैंग की गिरफ्तारी के एक हफ्ते से भी कम समय में शहर में चोरों ने दो बंद घरों को निशाना बनाते हुए चोरी की वारदातों को अंजाम देते हुए लाखों के सामान पर हाथ साफ कर दिया। स्पष्ट है कि शहर में बंद घरों को निशाना बनाने वाला कोई और गिरोह भी सक्रिय है।

धार्मिक स्थल पर गया था परिवार, चोरों ने खंगाला घर

कुक्की ढाब के पास स्थित एक ताला लगे घर को चोरों ने दिनदहाड़े निशाना बनाते हुए घर से लाखों के जेवर और नकदी पर हाथ साफ कर दिया। चोर घर में रखा करीब 13 तोले सोना और दस हजार की नकदी के साथ अन्य सामान लेकर फरार हो गए। घटना के समय घर में रहने वाली बुजुर्ग महिला धार्मिक स्थान पर मत्था टेकने गई हुई थी। गुरविंदर सिंह ने बताया कि उनके घर के निचले हिस्से में उनके माता-पिता रहते हैं। वह घर की उपरी मंजिल पर रहते हैं। मंगलवार सुबह मां 10.30 बजे गुरुद्वारा गई थी। पिता अस्पताल में भर्ती हैं। दोपहर 12.30 बजे के करीब जब मां वापस आईं तो उनके घर के ताले टूटे हुए थे और अंदर सारा सामान बिखरा हुआ था। घटना की सूचना पुलिस को दी गई। मौके पर पहुंची थाना डिवीजन सात की पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

काम पर गया था परिवार चोरों ने घर से उड़ाया सामान

पीपीआर माल के पास स्थित इंप्रूवमेंट ट्रस्ट बिल्डिंग के एक ताला लगे घर को चोरों ने निशाना बनाते हुए घर में लगी एलईडी, आठ हजार नकद और कपड़े सुखाने वाले स्टैंड पर हाथ साफ कर दिया। इतना ही नहीं चोर घर में लगी सारी टोटियां भी उखाड़ ले गए। पुलिस ने पीड़ित की शिकायत पर केस दर्ज करते हुए मामले की जांच शुरू कर दी है। फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट की टीम ने सबूत भी इकट्ठा किए हैं। चोर की पहचान के लिए पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरे खंगाल रही है। घर के मालिक विशु आनंद ने बताया कि सोमवार को उनके घर के सभी सदस्य काम पर गए हुए थे। शाम 6.30 बजे जब वह  घर पर पहुंचे तो घर का ताला टूटा था। चोरों ने घर में चोरी की वारदात को अंजाम दे दिया था। 

Edited By: Pankaj Dwivedi