शाम सहगल, जालंधर : कोरोना वायरस के कारण धार्मिक स्थानों के कपाट बंद पड़े हुए हैं। इसके साथ ही पंजाब की एकमात्र विश्व मुखी सिद्ध शक्तिपीठ मां त्रिपुरमालिनी के दरबार में भले ही भजन संध्या नहीं हो रही, लेकिन भक्ति की इस बयार को प्रसिद्ध भजन गायक राज कुमार सहगल ने टूटने नहीं दिया है। इसके लिए उन्होंने सिद्ध शक्तिपीठ मां त्रिपुरमालिनी के अनुयायियों के फेसबुक पेज पर प्रस्तुत होकर हर मंगलवार व शुक्रवार को भजन संध्या का दौर जारी रखा। कोट किशन चंद स्थित अपने घर में ही मां त्रिपुरमालिनी का दरबार सजा कर लाइव भेंटे प्रस्तुत करते हुए इस परंपरा को भी बरकरार रखा है।

मां की आराधना व बाऊ जी को समर्पित रही भजन संध्या

प्रसिद्ध भजन गायक राज कुमार सहगल बताते हैं कि सिद्ध शक्तिपीठ मां त्रिपुरमालिनी के दरबार में श्री देवी तालाब मंदिर प्रबंधक कमेटी के महासचिव राजेश विज और विश्वविख्यात धार्मिक गीतकार बलबीर निर्दोष ने दो अप्रैल 2010 को मां की चौकी करवाने की परंपरा शुरू की थी, जो निरंतर जारी रही। कोरोना वायरस के कारण भले ही मंदिरों के कपाट बंद करने पड़े हैं, लेकिन मां की आराधना पर कोई पहरा नहीं हो सकता। यही कारण है कि इस परंपरा को घर से ही जारी रखा है। इसके लिए फेसबुक के माध्यम से मां त्रिपुरमालिनी के अनुयायियों से जुड़े रहे हैं। इसमें एक समय पर एक लाख के करीब लगातार अनुयायियों ने मां की भक्ति में अपनी उपस्थिति दर्ज की है।

बच्चों ने भी दिया साथ

प्रसिद्ध भजन गायक राज कुमार सहगल बताते हैं कि उनके लिए हर्ष की बात यह रही कि इस परंपरा में उनके तीनों बेटे बेटों ने भी साथ दिया। फेसबुक पर मां त्रिपुरमालिनी की भजन संध्या में बेटे वीनू सहगल, चीनू सहगल और शैंकी सहगल ने भी उनके साथ संगत दी। मां त्रिपुरमालिनी की अपार महिमा के कारण रात आठ से 9.15 बजे तक की जाती रही भजन संध्या में बच्चों का साथ सदैव रहा।

आरती के साथ दिया विश्राम

राज कुमार सहगल ने फेसबुक पर करवाई गई मां की चौकी के दौरान बलवीर निर्दोष द्वारा लिखित 'स्वर्गा तो सोहना तेरा द्वार, असी हाथ जोड़ खड़े','खादे कमादे रहे तेरे बछड़े शेरावालिए' व 'माता रानी के भक्त आ दे बेड़ा तार दे' समेत कई प्रसिद्ध भजन प्रस्तुत किए। जिसे आरती के साथ विश्राम दिया गया। राज कुमार सहगल के मुताबिक अब मां के भक्तजन फेसबुक रिकॉर्डिग के साथ मां के चरणों से जुड़े रह सकते हैं।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!