दीपक मौदगिल/बलविंदरपाल सिंह, पटियाला। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने रेत की कीमत भले ही साढ़े पांच रुपये प्रति फीट तय कर दी हैं, लेकिन उनके इस फैसले का आम जनता को लाभ नहीं मिल रहा है। लोग सरकार पर सवाल भी उठा रहे हैं। राज्य में रेत अब भी 22 रुपये से 40 रुपये प्रति फीट तक मिल रही है। इसके अलावा कई जिलों में रेत की सप्लाई भी बंद हो गई है। इनमें प्रमुख तौर पर पटियाला, फतेहगढ़ साहिब, मोगा और कपूरथला शामिल हैं। हालांकि, फाजिल्का में वर्तमान में रेत का पुराना स्टाक उपलब्ध है, लेकिन आगामी समय में लोगों को रेत की किल्लत से जूझना पड़ेगा।

लुधियाना में कंपनी ने रेत खनन का काम बंद रखा

लुधियाना में सरकारी टेंडर भरने के बाद ठेके पर रेत की खड्ड चला रही महादेव एंक्लेव कंपनी ने वीरवार को गांव चूहड़वाल में काम बंद रखा। बताया गया है कि कंपनी ने महंगी दर पर रेत की खड्ड का ठेका लिया था। अब सरकार की ओर से तय नई कीमत पर रेत बेचने से उसे नुकसान उठाना पड़ रहा है। इस कारण काम बंद रखा गया।

इतनी कम कीमत में रेत बेचना संभव नहीं

रेत के कारोबार से जुड़े जतिंदर सिंह कलेर ने कहा कि साढ़े पांच रुपये प्रति फीट की कीमत को रेत कारोबार पर लागू करना आसान नहीं है। अगर पटियाला से आनंदपुर साहिब की खड्ड पर एक हजार फीट रेत लेने जाना है तो टिप्पर के आने-जाने पर करीब दस हजार रुपये का डीजल खर्च हो जाता है। खड्ड की रायल्टी के रूप में प्रति फीट पांच रुपये, रेत की भराई के लिए नौ रुपये, रेत की वाशिंग व क्रशिंग के लिए प्रति फीट दो रुपये के खर्च भी शामिल हैं। रेत की कीमत तय करते समय सरकार को इन खर्च को भी ध्यान में रखना चाहिए था।

इसी सप्ताह तय की है कीमत

सरकार ने इसी सप्ताह रेत की कीमत नौ रुपये से कम करके साढ़े पांच रुपये प्रति फीट करने की घोषणा की है। इस कीमत में रेत की खड्ड से रेत की भराई और खड्ड के ठेकेदार का लाभ भी शामिल किया गया। पहले रेत की नौ रुपये प्रति फीट कीमत केवल खड्ड से निकाली जाने वाली रेत पर ही लागू होती थी।

पुराना स्टाक निकाल रहे कारोबारी

रेत कारोबारियों ने फिलहाल खड्डों (माइनिंग साइट) से रेत लानी बंद कर दी है। वह पुराने स्टाक को ही निकालने में लगे हैं। कारोबारियों का कहना है कि परिवहन और अन्य खर्च सहित खड्ड से ग्राहक तक पहुंचाने में उन्हें रेत 35 रुपये प्रति फीट तक पड़ती है। ऐसे में वह रेत की सप्लाई साढ़े पांच रुपये प्रति फीट के हिसाब से कैसे कर कर सकते हैं?

पंजाब में इस रेट पर मिल रही रेत

(प्रति फीट, अन्य सभी खर्च शामिल कर)

पटियाला - 34 

बठिंडा - 40

संगरूर - 37

लुधियाना - 30

मुक्तसर - 35

गुरदासपुर - 21

फतेहगढ़ साहिब - 33

मोगा - 22

फिरोजपुर - 22

पठानकोट - 22

नवांशहर - 38

तरनतारन- 28

अमृतसर - 25

---

जालंधर - 5.50

फाजिल्का- 5.50

(इन दोनों जिलों में अन्य खर्च शामिल नहीं)

Edited By: Pankaj Dwivedi