जालंधर, जेएनएन। पंजाब स्कूल एजुकेशन बोर्ड में दसवीं और बारहवीं परीक्षा के दौरान पेपरों की चेेकिंग में गड़बड़ी हुई तो चेकिंग स्टाफ पर कार्रवाई होगी। इसलिए बोर्ड ने पेपरों की चेकिेंग सही तरीके से करने संबंधी स्टाफ को हिदायतें दे दी हैं। सभी को यही कहा गया है कि उत्तर पुस्तिका की रीचेकिंग अंक के जोड़ में अंतर या किसी प्रश्न का उत्तर बिना मूल्यांकन से रह जाने की स्थिति में यदि विद्यार्थी के नतीजे पर प्रभाव पड़ा तो चेकिंग स्टाफ पर कार्रवाई होगी।

रीवेल्युएशन के दौरान किसी विषय के अंक में 10 फीसद से अधिक फर्क आता है तो मूल्यांकन करने वाले पहले अध्यापक पर कार्रवाई के संबंध में विभाग को भेजा जाएगा। उत्तर पुस्तिका अगर गुम हो जाती है या नष्ट हो जाती है तो 200 रुपये प्रति उत्तर पुस्तिका जुर्माना वसूला जाएगा। चेकिंग स्टाफ छुट्टी वाले दिन भी मूल्यांकन का काम करेंगे। बीमारी की स्थिति में सीएमओ स्तर पर सर्टिफिकेट देना अनिवार्य होगा।

उत्तर पुस्तिका की मार्किंग करवाने के लिए 30 फीसद एफिलिएटिड स्कूल का स्टाफ लगाया जाएगा। बोर्ड ने जिला शिक्षा अधिकारियों के साथ संपर्क करके इसकी तैयारी शुरू कर दी है। साथ ही यह भी कहा है कि रिजल्ट मार्किंग ऐप के जरिए ही तैयार किया जाएगा। अगर मार्किंग एप संबंधी कोई मुश्किल आती है तो उसे क्वेरी पोर्टल के जरिए अपलोड किया जाए और उसका निपटारा किया जाए।

मार्किंग एप से बांटी जाएंगी उत्तर पुस्तिका

बोर्ड की तरफ से उत्तर पुस्तिकाओं (पेपर) की चेकिंग सही तरह से हो इसलिए मूल्यांकन केंद्र बनाए जा रहे हैं। जहां से चेकिंग स्टाफ को ऑनलाइन मार्किंग एप्लीकेशन के जरिये ही उन्हें पेपर चेक करने के लिए दिए जाएंगे। स्टाफ को इसके लिए सिक्योरिटी यूजर आइडी और पासवर्ड दिया जाएगा। हेड एग्जामिनर की ओर से चेक की गई पांच फीसद उत्तर पुस्तिकाओं की जानकारी भी ऑनलाइन दर्ज की जाएगी। चेकिेंग स्टाफ के क्रमानुसार चेक किए गए पेपरों के अंकों का मिलान किया जाएगा। उसके बाद ही उसे फाइनल किया जाएगा। चेकिंग असिस्टेंट और परीक्षा चे¨कग केंद्र के कोआर्डिनेटर की इस पूरे प्रकरण में भी जिम्मेदारी होगी।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!