जागरण संवाददाता, जालंधर : जिले के देहात क्षेत्र में पराली जलाने को लेकर एसएसपी नवजोत सिंह माहल ने शुक्रवार को गजटेड अफसरों को तलब किया। मीटिंग कर उन्होंने निर्देश दिए कि वो एसडीएम व तहसीलदार के साथ तालमेल कर फील्ड में उतरें और पराली जलाने से रोकने के लिए जागरूकता से लेकर सख्ती बरतें।

देहात पुलिस मुख्यालय में हुई बैठक में एसएसपी माहल ने कहा कि वो एसडीएम व तहसीलदार के साथ टीमें बनाएं और गांवों में जाकर किसानों को जागरूक करें कि पराली न जलाएं। गांवों में जागरूकता मार्च निकाला जाए। गांव के सरपंचों को नोट करवाया जाए कि अगर कोई किसान पराली जलाता है तो उसके बारे में तुरंत पुलिस थाने में सूचना दें। सरपंचों को साथ लेकर पराली जलाने वाले किसानों की सूची तैयार की जाए।

एसएसपी माहल ने बताया कि अभी तक देहात क्षेत्र में 72 किसानों ने पराली जलाई है, जिनमें 66 किसानों के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज कर 65 को गिरफ्तार किया है। अन्य सात की गिरफ्तारी अभी बाकी है। 22 मुकदमों के चालान भी कोर्ट में पेश किए जा चुके हैं।

मीटिग में एसपी (डी) सर्बजीत सिंह, डीएसपी डी रणजीत सिंह, आदमपुर के एएसपी अंकुर गुप्ता, डीएसपी क्राइम सुरिदरपाल सिंह, डीएसपी (क्रिमिनल्स ग्रुप) कुलविदर सिंह, सेना क्लर्क सुरिदर सिंह, आर्थिक अपराध शाखा के इंचार्ज इंस्पेक्टर विनोद कुमार व इंस्पेक्टर सुखदेव सिंह मौजूद थे।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!