जागरण संवाददाता, जालंधर : आर्य समाज मंदिर शहीद भगत सिंह नगर में साप्ताहिक सत्संग का आयोजन रविवार को हुआ। जिसका आगाज हवन के साथ किया गया। जिसमें विजय कुमार तिवाड़ी व पुष्पा देवी तिवाड़ी बतौर मुख्य यजमान के रूप में शामिल हुए। यज्ञ के ब्रह्मा पंडित सुरेश शास्त्री ने विधिवत मंत्रोच्चारण के साथ यज्ञ संपन्न करवाया। आर्य समाज की प्रसिद्ध भजन गायिका सोनू भारती ने यज्ञ प्रार्थना करवाई। आर्य समाज के प्रसिद्ध भजन सम्राट सुरिंदर सिंह गुलशन ने कई मनमोहक भजन प्रस्तुत किए। इसके उपरांत आर्य प्रतिनिधि सभा पंजाब के उपदेशक पंडित विजय कुमार शास्त्री ने कहा कि परमपिता परमात्मा समूचे विश्व की पालना कर रहे है। भगवान इंसान ही नहीं बल्कि जीव जंतुओं का पालन भी कर रहे है। गृहस्थी लोगों को जीवन में पांच नियमों की पालना जरूर करना चाहिए। जिसमें अतिथियों का सत्कार करना, बालक बालिका के संतान का पालन करना, पत्नी का पालन व उसकी सभी प्रकार की व्यवस्था करना, जननी माता पिता की सेवा करना व देश तथा राष्ट्र की रक्षा की पालना करना शामिल हैं। इसके अलावा समाज की सेवा करना भी भारतीय संस्कृति व धर्म की पालना करना है।

आर्य समाज के प्रधान रणजीत आर्य ने कहा कि आर्य समाज शहीद भगत सिंह नगर देव दयानंद के बताए हुए मार्ग पर चलते हुए आर्य समाज वेदों का प्रचार प्रसार कर रहा है। इसी तरह लोगों को यज्ञ करने के लिए प्रेरित भी किया जा रहा है। यज्ञ ही सर्वश्रेष्ठ कर्म है। महामंत्री हर्ष लखनपाल ने मंच संचालन किया। संस्थान की तरफ से अतिथियों को सम्मानित किया गया। इस अवसर पर भूपेंद्र उपाध्याय, सुरेंद्र अरोड़ा, चौधरी हरी चंद, अश्वनी डोगरा, अशोक कुमार धीर, राजेंद्र शर्मा, सुभाष आर्य, इंदू आर्या, अनु भास्कर, वेद कुमार भाटिया, जतिन्द्र आर्य, सरीता आर्य, ललित मोहन कालिया, संदीप अरोड़ा, गितिका अरोड़ा, नालिनि उपाध्याय, रश्मी, प्रवीण लखनपाल, रानी अरोड़ा, कृष्णा, लक्ष्य, अनु आर्य, ज्योति सिंह, प्रमोद तिवाड़ी, बैजनाथ, राजीव शर्मा, अमरनाथ, बबलू कुमार, रवि पोंडवाल, पंकज, रूहानी भाटिया, नीरज, किरण शर्मा, प्रदीप शर्मा, तान्या शर्मा, सुमन सहित सदस्य मौजूद थे।

Edited By: Jagran