संवाद सहयोगी, जालंधर : विधानसभा चुनाव अमन, शांति व सुरक्षा के साथ पूरे करवाए जाएंगे और आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन करने की इजाजत किसी को भी नहीं होगी। जिले में लाइसेंसी हथियार जमा करवाने के लिए शुरू किए अभियान के अंतर्गत अब तक कुल 92 प्रतिशत लाइसेंस हथियार जमा करवाए जा चुके हैं। यह कहा जालंधर के डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने, जो दफ्तर में की जा रही बैठक में संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि जिले में कुल 16382 लाइसेंसी हथियार हैं, जिनमें से 15219 लाइसेंसी हथियार जमा करवाए जा चुके हैं। उन्होंने बताया कि पुलिस कमिश्नरेट जालंधर की तरफ से कुल 7909 लाइसेंसी हथियारों में से 7274 और एसएसपी की तरफ से कुल 8473 लाइसेंसी हथियारों में से 7945 हथियार जमा करवाए जा चुके हैं। डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि प्रशासन की तरफ से लाइसेंस धारकों के मामलों की जांच के लिए जिला स्तरीय स्क्रीनिग समिति का पुनर्गठन भी किया गया है, जिनमें जमानत पर बाहर आए व्यक्तियों के हथियार, लाइसेंस, आपराधिक इतिहास रखने वाले व्यक्तियों के हथियार लाइसेंस और पहले किसी भी समय, विशेषकर चुनाव समय दौरान दंगों में शामिल व्यक्तियों के हथियार लाइसेंस शामिल हैं। कमेटी की रिपोर्ट आने के बाद लाइसेंस धारक को अपने हथियार जमा करवाने के लिए नोटिस जारी किया जाएगा। हथियार जमा न करवाने पर आईपीसी की धारा 188 के अंतर्गत मुकद्दमा चलाया जाएगा।

Edited By: Jagran