जागरण टीम, गुरदासपुर/कादियां। करनाल के बतारा टोल प्लाजा मधुबन से पांच मई को आइईडी व हथियारों की बरामदगी के मामले में एनआइए की टीम जांच में जुटी है। टीम ने बुधवार रात को गुरदासपुर के गांव पीरां बाग में गुरविंदर सिंह राजा और कादियां के गांव नाथपुर के जेल में बंद आरोपित के बंद पड़े घर की तलाशी ली। टीम द्वारा पुलिस व गांव निवासियों के सामने बंद घर के ताले तोड़कर तलाशी ली गई। हालांकि घर की तलाशी लेने पर कोई आपत्तिजनक वस्तु बरामद नहीं हुई।

सूत्रों के मुताबिक राजबीर सिंह पुत्र स्व. संतोख सिंह निवासी गांव नाथपुर के घर की एनआइए की टीम ने तलाशी ली। राजबीर सिंह ने अपने बुआ के बेटे सतनाम सिंह उर्फ सत्ता पुत्र अर्जुन सिंह का अपने ही गांव नाथपुर में गोली मार कर कत्ल कर दिया था। वह 2017 से जेल बंद है।

राजबीर पर गिरफ्तारी के पश्चात दो दर्जन से भी अधिक मामले दर्ज हो चुके हैं। माना जा रहा है कि इसके जेल में रहते गैंगस्टरों से संबंध हो गए थे। गत दिनों करनाल से बरामद हथियारों के मामले में भी इसका नाम सामने आया है।

उल्लेखनीय है कि राजबीर अपने घर में इकलौता पुत्र है। पिता संतोख सिंह की मौत हो चुकी है, जबकि मां प्रभजोत कौर कभी गुरुद्वारे तो कभी रिश्तेदारों के पास जाकर अपना जीवन व्यतीत कर रही है। इस समय वह कहां पर है इसका गांव में रहने वाले लोगों को कुछ पता नहीं है, जबकि इनका घर बंद पड़ा है।

एनआइए की टीम ने सीआईए स्टाफ बटाला, स्थानीय पुलिस व कुछ गण्यमान्य लोगों की मौजूदगी में बंद पड़े घर के ताले तोड़कर तलाशी ली। तलाशी लेने की बकायदा कानूनी प्रक्रिया पूरी गई थी। गांव के सरपंच मलकीयत सिंह ने बताया कि बुधवार को एनआइए की टीम गांव में आई थी और घर की तलाशी लेने के पश्चात घर को पुन: ताले लगा दिए गए।

उन्होंने बताया कि राजबीर की मां के पास महज तीन चार मरले पर आधारित घर है। कोई जमीन जायदाद नहीं है व मां अपने रिश्तेदारों तथा गुरूदवारे में जाकर गुजारा करती है। थाना कादियां के इंचार्ज मंगल सिंह ने बताया कि एनआइए की टीम ने करनाल में बरामद हथियारों के मामले को लेकर आरोपित के घर की तलाशी ली है।

पीरां बाग भी पहुंची एनआइए की टीम

करनाल से बरामद हथियारों के मामले में जांच में जुटी एनआइए की टीम ने बुधवार की रात को गुरदासपुर के गांव पीरां बाग में गुरविंदर सिंह राजा के घर की भी तलाशी ली। उस समय घर में राजा की बूढ़ी मां के अलावा कोई नहीं था।

गौरतलब है कि एनआइए की करीब आठ लोगों की टीम गुरविंदर राजा के गांव पीरांबाग में पहुंची। टीम द्वारा उसकी मां से पूछताछ की गई और घर की छानबीन की गई।

इस मामले में कोई बड़ा अधिकारी भले ही बोलने को तैयार नहीं है, लेकिन सूत्रों के मुताबिक एनआइए की टीम राजा के घर में लगे सीसीटीवी की डीवीआर को अपने साथ ले गई है। 

Edited By: Kamlesh Bhatt