जेएनएन, जालंधर। स्थानीय निकाय मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू की जुबान पर आजकल दो नाम ही ज्यादा रहते हैं। कोई भी राजनीतिक सभा हो वह पूर्व उपमुख्यमंत्री सुखबीर सिंह बादल और उनक साले पूर्व कैबिनेट मंत्री बिक्रम सिंह मजीठिया पर करारा प्रहार करने से नहीं चूकते। यहां मुख्‍यमंत्री के साथ कांग्रेस कार्यकर्ताओं के सम्‍मेलन में आए सिद्धू ने एक बार फिर सुखबीर और मजीठिया पर हमला किया। उन्‍होंने कहा, पंजाब में जीजा और साला के प्रति लोगों में इतनी नफरत है कि कांग्रेस चुनावों में जीत की हैट्रिक लगाएगी।

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ नगर निगम चुनावों की तैयारियों का जायजा लेने आए सिद्धू ने कांग्रेस वर्करों को संबोधित करते हुए कहा कि जीजा-साला के प्रति लोगों में इतनी ज्यादा नफरत है कि कांग्रेस अब जीत की हैट्रिक लगाने जा रही है। पहले कांग्रेस ने विधानसभा चुनाव में एेतिहासिक जीत दर्ज किए। फिर गुरदासपुर उपचुनाव और अब नगर निगम चुनावों में अकाली-भाजपा का सूपड़ा साफ होगा।

यह भी पढ़ें: कैप्टन ने कहा, कर्ज में डूबे पंजाब को उबारने में लग गए सात माह

सुखबीर और मजीठिया पर वार करते हुए सिद्धू अपने खास अंदाज में बोले, कोठे ते तोता वैहण नीं देणा, जीजा-साला रहण नीं देना (कोठे पर तोते को बैठने नहीं देना, जीजा-साले को रहने नहीं देना है)। इस दौरान अपनी आदत के अनुरूप सिद्धू बात-बात पर थोको ताली, थोको ताली (ठोको ताली, ठोको ताली) बोलते रहे।

सिद्धू ने कहा कि जीजा-साला ने पंजाब को इतना ज्यादा बर्बाद कर दिया है कि लोगों में इनके प्रति नफरत ही नफरत भरी है। मजीठिया को अब हर मंच से डब्बू के नाम से बुलाने वाले सिद्धू ने कहा, ' डब्बू अब चिल्ला रहा है कि सरकार ने कुत्ते-बिल्लों पर भी टैक्स लगा दिया है। डब्बू, तेरी बिरादरी पर तो टैक्स नहीं लगाया ना, तू तैयारी कर ले, चाहे जो भी हो जाए, तेरा जेल जाना तो अब तय है।'

कप्तान-ई सेवा से घर बैठे ही पास हो जाएगे नक्शे

सिद्धू ने कहा कि स्‍थानीय निकाय विभाग का प्रोजेक्ट पूरा होने वाला है, भ्रष्टाचार पर नियंत्रण पाने के लिए कप्तान-ई सेवा नगर निगमों और परिषदों में शुरू होने जा रही है। लोगों को अपने घरों और अन्य इमारतों के नक्शे पास कराने के लिए चक्कर नहीं लगाने पड़ेंगे, ऑनलाइन घर बैठे की नक्शे पास हो जाएंगे। प्रोजेक्ट पर काम जारी है, छह महीने पर पूरे राज्य में यह शुरू हो जाएगा।

सीवरेज और पानी की पाइपों को बदलने के लिए 1500 करोड़ का प्रोजेक्ट

सिद्धू ने कहा कि सरकार शहरों में साफ पानी की सप्लाई और सीवरेज व्यवस्था को ठीक करने के लिए 1500 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट पर काम कर रही है। दशकों पुरानी सीवरेज और पीने के पानी की पाइपें शहरों में एक साथ डाली गई थी, पुरानी सीवरेज और पीने के पानी की पाइपों का पानी मिक्स होने से बीमारियां फैल रही है।

यह भी पढ़ें: छठ महापर्व पर भक्तिमय हुआ पंजाब और चंडीगढ़, डूबते सूर्य को दिया अर्घ्‍य

Posted By: Sunil Kumar Jha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!