जालंधर, पंजाब के कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने केंद्रीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को चिट्ठी लिखकर गुरु गोविंद सिंह के 550वें प्रकाश पर्व के मौके पर करतारपुर कॉरिडोर खुलवाने की इच्छा जाहिर की है। सिद्धू ने चिट्ठी के जरिए सुषमा से अपील की है कि वो पाकिस्तान सरकार से इस बारे में बातचीत करें और इस मामले का हल निकालें। सिद्धू के मुताबिक भारत सरकार अगर ऐसी कोई कोशिश करती है तो ऐसे में पाकिस्तान जाने वाले सिख श्रद्धालुओं की पुरानी माग भी पूरी होगी।

सिद्धू ने दावा किया है कि पाकिस्तान ने करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने के लिए रजामंदी जताई है। सिद्धू ने शनिवार को मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि आज मेरा जीवन सफल हो गया. करोड़ों सिखों की मुराद पूरी गई। मेरे माता-पिता डेरा नानक और करतारपुर अरदास करने जाया करते थे। पाकिस्तान के मेरे दोस्त और प्रधानमंत्री खान साहब (इमरान खान) के इस फैसले पर मैं उनका शुक्रिया अदा करता हूं। ये फैसला उन्होंने मेरे दोस्त होने पर नहीं बल्कि वजीर-ए-आजम के तौर पर लिया है। हालाकि, पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा है कि अभी उन्हें करतारपुर कॉरिडोर के बारे में कोई जानकारी नहीं है। इस बीच पूर्व केंद्रीय मंत्री फारूख अब्दुला ने सिद्वू को कॉरिडोर को लेकर समर्थन दिया है। उन्होंने कहा कि पंजाब के मंत्री के यह प्रयास काबिलेतारीफ है। इससे भारत और पाकिस्तान में कई दिनों से चली आ रही कटुता समाप्त होगी। गौरतलब है कि इस मुद्दे पर पहले भी कई नेता नवजोत सिद्वू की तारीफ कर चुके है।

Posted By: Jagran