जालंधर, जेएनएन। निगम ने अगले चार दिन के लिए फोकल प्वाइंट इलाके के सीवरेज को शहर के सीवरेज में जाने से रोक दिया है। नॉर्थ हलके के कई इलाकों में सीवरेज जाम की समस्या के मद्देनजर ये फैसला लिया गया है। चार दिन तक फोकल प्वाइंट का सीवरेज निगम के सीवरेज में रोककर यह पता किया जाएगा कि क्या फोकल प्वाइंट के सीवरेज के कारण शहर प्रभावित हो रहा है। इस मसले के हल के लिए मंगलवार को भी मीटिंग हुई थी और बुधवार को पंजाब सप्लाई एंड सीवरेज बोर्ड, पंजाब स्माल इंडस्ट्री एंड एक्सपोर्ट कारपोरेशन के अफसरों को बुलाया गया था।

यह मामला नगर निगम हाउस की मीटिंग में भी जोर-शोर से उठा था। मंगलवार को इस संबंधी बैठक हुई थी लेकिन कोई हल नहीं निकला। बुधवार को पंजाब सीवरेज बोर्ड और पंजाब स्मॉल इंडस्ट्री एंड एक्सपोर्ट कारपोरेशन के अधिकारियों की उपस्थिति में हुई बैठक में एक्सपोर्ट कारपोरेशन ने कहा कि फोकल प्वाइंट के सिर्फ 400 यूनिट का सिर्फ एक एमएलडी पानी सीवरेज में जा रहा है। जबकि निगम का दावा है कि फोकल प्वाइंट, फोकल प्वाइंट एक्स्टेंशन और गदईपुर से करीब छह एमएलडी पानी सीवर लाइन में आ रहा है जिसके कारण कई इलाके में सीवर ओवरफ्लो हो रहे हैं।

पार्षद सुशील शर्मा, सुशील कालिया, गुरप्रीत सिंह रंधावा, रवि सैनी की मांग पर मेयर जगदीश राजा और कमिश्नर दीपर्वा लाकड़ा ने निर्देश दिया कि चार दिन तक फोकल प्वाइंट के सीवर को निगम के सीवर में न गिरने दिया जाए। इससे पता लग जाएगा कि शहर के सीवरेज पर क्या असर पड़ता है। कमिश्नर ने एक्सपोर्ट कारपोरेशन को यह भी निर्देश दिया है कि वह अपने सीवर के पानी को डिस्पोज करने का खुद इंतजाम करें।

ओएंडएम ब्रांच के एसई सतिंदर कुमार ने कहा कि एक्सपोर्ट कारपोरेशन के अफसर सिर्फ फोकल प्वाइंट के पानी का डाटा बता रहे हैं जबकि फोकल प्वाइंट एक्स्टेंशन, गदईपुर और साथ डवलप हुई इंडस्ट्री से बड़ी मात्रा में पानी सीवर में गिर रहा है। चार दिन में पता चल जाएगा कि फोकल प्वाइंट इलाके के सीवर की निकासी से शहर के सीवरेज पर कितना असर पड़ रहा है। सोमवार को सभी विभागों की बैठक में इस पर फैसला हो जाएगा। पंजाब सीवरेज बोर्ड का इस मामले से ज्यादा लिंक नहीं है लेकिन शहीद भगत सिंह कालोनी में तकनीकी गड़बड़ी से पानी की निकासी में आ रही मुश्किल को देखते हुए एस्टीमेट बनाकर नई लाइन डालने के लिए कहा है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!