संवाद सहयोगी, जालंधर : मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई कर रही दिल्ली की एक युवती से जालंधर में रहता मौसा जान से मारने की धमकियां देकर दुष्कर्म करता रहा। इसी बीच युवती गर्भवती हो गई और हरिद्वार स्थित अपनी बुआ के घर चली गई। वहां उसने दूसरी मंजिल के पखाने में मरे हुए बच्चे को जन्म दिया। बच्चे को जन्म देने के बाद डस्टबिन में फेंककर दिल्ली पुलिस में जीरो एफआइआर दर्ज करवाई। अब थाना मकसूदां की पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपित मौसा अरुण कुमार उर्फ अमन को गिरफ्तार कर लिया है।

शिकायत में पीड़ित युवती ने बताया कि उसके माता-पिता की मौत के बाद ताया ने उसका पालन पोषण किया। वह जालंधर में मास कम्युनिकेशन की पढ़ाई करने के लिए एक साल से मौसी के पास रह रही थी। उसकी मौसी ड्यूटी पर चली जाती तो मौसा अरुण कुमार उर्फ अमन उसे तंग परेशान करता। डरा-धमकार शारीरिक संबंध बनाए, जिससे वह गर्भवती हो गई। 28 फरवरी को वह दिल्ली चली गई। वहां पखाने में उसने मरे हुए बच्चे को जन्म दिया। तबीयत बिगड़ी तो उसे अस्पताल दाखिल करवाया गया। ताई के पूछे जाने पर उसने सारी बात बता दी। इसके बाद ताया ने दिल्ली में जीरो एफआइआर दर्ज करवाई।

अस्पताल में स्टाफ व मरीज के परिजनों में हुई हाथापाई, वीडियो वायरल

जालंधर। रामामंडी स्थित एक निजी अस्पताल में स्टाफ व मरीज के परिजनों में हो रही हाथापाई की वीडियो देर रात वायरल हुई। हालांकि उक्त अस्पताल में ये घटना किन कारणों से हुई, इसका पता नहीं चल पाया है। मरीज के परिजनों ने अस्पताल के स्टाफ पर बिना वजह उनकी पिटाई करने का आरोप लगाया है। मामले को लेकर हंगामा हुआ, जबकि अस्पताल के स्टाफ ने सभी आरोपों को सिरे से नकार दिया है। जब इस संबंध में अस्पताल स्टाफ से संपर्क किया गया तो उन्होंने इसी तरह की किसी भी घटना होने से साफ इंकार कर दिया।

Edited By: Vinay Kumar