संवाद सहयोगी, जालंधर

बीते दिनों जमीन विवाद में थाना मकसूदां में हुए दर्ज हुए मामले में नामजद हुए अकाली नेता एचएस वालिया और कांग्रेस पार्षद निर्मल सिंह निम्मा ने अदालत से जमानत लेने के बाद आप विधायक बलकार सिंह पर झूठे मामले में फंसाने का आरोप लगा दिया। पत्रकारों से बातचीत करते हुए एचएस वालिया ने अपने ऊपर दर्ज हुए मामले को गलत ठहराते हुए कहा कि थाना मकसूदां के प्रभारी ने आम बलकार सिंह के की कहने पर उन पर झूठा मामला दर्ज कर दिया है।

एचएस वालिया ने कहा जिस दिन मामला दर्ज हुआ, उस समय वह घटनास्थल पर मौजूद नहीं थे, जिसकी सीसीटीवी कैमरे की रिकार्डिग उनके पास है। वह सारी फुटेज जालंधर के एसएसपी दो दे चुके हैं। वालिया ने कहा उनको सिर्फ इसलिए फंसाया जा रहा है कि वह किसी समय उक्त जमीन मामले में हुए विवाद में समझौता करवाने के लिए पहुंचे थे। आरोप था कि जिस व्यक्ति के बयानों पर उनके खिलाफ मामला दर्ज हुआ है वो व्यक्ति जमीन पर कोई हक नहीं रखता है और जिस समय हंगामा हुआ उस समय शिकायत करने वाला जालंधर में ही नहीं था। इस संबंध में एसएसपी को मांगपत्र देंगे और उनको केस से बाहर निकालने की मांग करेंगे। एचएस वालिया ने करतारपुर, लांबड़ा और मकसूदां के प्रभारियों पर आरोप लगाए कि वह सभी विधायक बलकार सिंह के कहने पर चलते हैं। वालिया और उसके साथियों ने किया कब्जा : सोनू

वालिया की पत्रकार वार्ता के बाद उस पर मामला दर्ज करवाने वाले कोटला निवासी हरविदर सिंह उर्फ सोनू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि उन्होंने किसी को झूठे मामले में नहीं फंसाया। कहा कि जमीन उनके दादा के नाम पर थी और उसके ताया ने उस पर कब्जा करने का प्रयास किया था। पहले भी पंचायती समझौता हुआ था, जिसके बाद भी उक्त लोग उसके साथ धक्का करने का प्रयास कर रहे थे। उसने बताया कि पहले भी कई बार शिकायत दी जा चुकी थी, लेकिन कोई हल नहीं निकल रहा था। इस संबंध में हाई कोर्ट में केस दायर किया हुआ है। आरोप है कि इसके बावजूद उसका ताया वालिया निम्मा के साथ मिल कर कब्जा कर रहा है। उसने कहा कि विधायक का इस मामले में कोई लेना देना नहीं है। करतारपुर के डीएसपी की केक कटाने की वीडियो चर्चा में

बीते दिन आम आदमी पार्टी के सुप्रीमो अरविद केजरीवाल का जन्मदिन विधायक बलकार सिंह के साथ मना रहे करतारपुर के डीएसपी सुरेंदर सिंह धोगड़ी की वीडियो चर्चा का विषय बनी हुई है। इसमें डीएसपी बिना वर्दी में विधायक के साथ केक कटवा रहे हैं और आम आदमी पार्टी के नारों में उनका साथ देते नजर आ रहे हैं। एचएस वालिया ने कहा कि इससे साफ जाहिर होता है कि पुलिस विधायक के कहने पर चलती है। लगाए जा रहे आरोप झूठे, विवाद से कोई लेना-देना नहीं है: बलकार सिंह

विधायक बलकार सिंह का कहना था कि उन पर झूठे आरोप लगाए जा रहे हैं। उनका इस विवाद से कोई लेना-देना नहीं है। उन्होंने कहा कि सोनू उनके हलके का रहने वाला है। उसने बताया था कि कुछ लोगों ने उसकी जमीन पर कब्जा करने का प्रयास किया है और पुलिस शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं कर रही है। उन्होंने पुलिस को निष्पक्ष कार्रवाई करने के लिए कहा। इसके अलावा किसी को कुछ नहीं कहा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग जमीन पर कब्जा करने के लिए उनके नाम का गलत इस्तेमाल कर रहे हैं, लेकिन वह अपने इलाके के लोगों के लिए बिना डरे काम करते रहेंगे।

Edited By: Jagran