जालंधर, जेएनएन। भाजपा नेता शीतल अंगुराल व उसके भाई पर नाबालिग का अपहरण करने पर केस दर्ज होने के मामले में नया मोड़ आ गया है। शुक्रवार को नाबालिग की मां ने सोशल मीडिया पर लाइव होकर शीतल अंगुराल की बजाय अपना बेटा पुलिस के पास होने का दावा कर दिया है।

महिला ने मुख्यमंत्री से गुहार लगाई है कि उसके बेटे का अपहरण शीतल और उसके भाई ने नहीं किया है। उसने दावा किया कि पुलिस ने उस पर दबाव बनाया और खाली कागजात पर दस्तखत करवा लिया, जिसके बाद शीतलन अंगुराल और उसके भाई के खिलाफ मामला दर्ज कर दिया है। उसका कहना था कि उसे यकीन है कि उसका बेटा पुलिस के पास है। महिला का दावा था कि इसमें एक विधायक का भी हाथ है। उसने मुख्यमंत्री से कहा है कि इस मामले में हस्तक्षेप करें और उनका बेटा वापस दिलाएं।

 

हाल में जुआ खेलने के आरोप में पकड़े गए थे अंगुराल

भाजपा नेता और एससी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्याकारिणी के पूर्व सदस्य शीतल अंगुराल और विवादों का चोली दामन का साथ है। अंगुराल सहित दस लोगों को पिछले दिनों थाना भार्गव कैंप पुलिस बस्तियों में जुआ खेलने के आरोप में पकड़ कर थाने ले गई थी। पुलिस ने मौके से ताश की गड्डी और करीब दो लाख रुपये की नकदी बरामद की थी। अंगुराल और उनके साथियों पर केस दर्ज कर काफी देर तक उन्हें थाने में ही बिठाया गया था। बाद में वहीं से जमानत दे दी गई थी। हालांकि अंगुराल ने मामले को झूठा करार दिया था। बता दें कि शीतल अंगुराल पूर्व पंजाब भाजपा प्रधान विजय सांपला के करीबी माने जाते हैं। अंगुराल ने पिछले विधानसभा चुनाव में भी पार्टी की टिकट हासिल करने की कोशिश की थी पर नाकाम रहे थे।

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!