जागरण संवाददाता, जालंधर

नागरा से सोमवार दोपहर घर के बाहर से किडनैप हुआ आर्मी सूबेदार का बेटा रॉबिन मंगलवार शाम डीएवी कॉलेज नहर के पास डरी हुई हालत में मिला। मोहल्ले में ही रहने वाले एक युवक ने रास्ते में उसे देखा उसे लेकर उसके घर पहुंचा। रॉबिन ने सिर्फ इतना बताया कि कुछ लोग उसे ट्रेन से अमृतसर ले गए। जहां गुरुद्वारे में सभी ने लंगर खाया और रात भर वहीं ठहरे। सुबह होते ही उसे फिर से ट्रेन से जालंधर ले आए और छोड़ दिया। रॉबिन के लापता होने का थाना एक में अज्ञात लोगों पर किडनै¨पग का केस दर्ज है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

नागरा निवासी हरदीप ¨सह राजस्थान के कोटा में सूबेदार हैं। घर में पत्नी कमलजीत कौर व बेटी एमनप्रीत और बेटा रॉबिन ¨सह (12) हैं। रॉबिन कॉन्वेंट स्कूल में 6वीं का छात्र है। बुआ के बेटे दलजीत ¨सह ने बताया कि रॉबिन सोमवार दोपहर 2.30 बजे घर से बाहर खेलने निकला। लेकिन शाम तक वापस नहीं लौटा तो खोजबीन की गयी। रात तक हर रिश्तेदार, जानकार के घर पता करने के बाद उन्होंने थाना एक में शिकायत दी। पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज कर इलाके के घरों में लगे कैमरे देखे तो पता चला कि रॉबिन तीन बजे के करीब कहीं जाता हुआ दिखता है। पुलिस और रिश्तेदारों ने रॉबिन की फोटो और मोबाइल नंबर वाट्सअप ग्रुप में वायरल कर दिया। साथ ही अमृतसर, जालंधर, के रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड समेत हर संभावित गुरुद्वारे, मंदिर और मस्जिद में पता कर लिया। हालांकि कुछ पता नहीं चला। डरा सहमा खड़ा था रॉबिन

मंगलवार को इलाके का ही रहने वाला एक युवक टेलर के पास कपड़े देने निकला। डीएवी कॉलेज नहर के पास उसे सड़क किनारे डरी हालत में खड़ा रॉबिन दिखा। वह रॉबिन को लेकर सीधे उसके घर पहुंचा। रॉबिन के घर पहुंचते ही परिजनों व रिश्तेदारों ने चैन की सांस ली। बच्चे के सामान्य होने के बाद खोजेंगे सुराग

घरवालों के मुताबिक उसने अब तक केवल इतना ही बताया कि वह ट्रेन में किसी के साथ चढ़कर अमृतसर चला गया था। सुबह उसे ट्रेन से जालंधर छोड़कर साथ वाला व्यक्ति कहीं चला गया। एसएचओ कुलवंत ¨सह का कहना है कि बच्चे के सामान्य होने के बाद उससे बात कर उसे ले जाने वाले का सुराग लगाया जाएगा।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!