जालंधर, [मनीष शर्मा]। ट्रैवल एजेंट दंपति ने पोलैंड भेजने के नाम पर पहले 14 लाख ठग लिए। पुलिस से शिकायत हुई तो कुछ पैसे लौटा दिए और बाकी लौटाने का राजीनामा कर लिया। फिर राजीनामे से मुकर गए और पैसे मांगने पर झगड़ा करने लगे। ट्रैवल एजेंट दंपति बोले कि वह पैसा लेना जानते हैं, लौटाना नहीं। पीड़ित ने फिर पुलिस को शिकायत की तो अब ट्रैवल एजेंट दंपत्ति के खिलाफ केस दर्ज कर लिया गया है।

मंड के रहने वाले दिलबाग सिंह ने बताया कि धलेता के रहने वाले ट्रैवल एजेंट संदीप कुमार व उसकी पत्नी अमरजीत कौर ने उन्हें परिवार समेत पोलैंड भेजने के लिए 14 लाख रुपये ठगे थे। इसके बावजूद उन्होंने किसी को विदेश नहीं भेजा। इसके बाद उन्होंने पिछले साल अगस्त महीने में पुलिस को इसकी शिकायत कर दी। जिसकी जांच पुलिस की मानव तस्करी ब्रांच को सौंपी गई। जांच शुरू हुई तो आरोपितों ने कुछ रकम उन्हें वापस कर दी और 9.45 लाख रुपये बकाया रह गए। वहां उन्होंने राजीनामा कर लिया कि बाकी रकम भी कुछ समय में लौटा देंगे और तीन लाख रुपये पहले दे देंगे।

20 दिसंबर को हुए इस राजीनामा के बावजूद उन्होंने पैसे नहीं लौटाए। जब उन्होंने ट्रैवल एजेंटों से अपनी रकम वापस मांगी तो वो लड़ाई-झगड़ा करने लगे। उन्हें जान-माल के नुकसान की धमकियां दी जाने लगी। उन्होंने कहा कि हम पैसे लेना जानते हैं, वापस लौटाना नहीं। उन्होंने धमकाया कि अगर शिकायतकर्ता या उसके परिवार ने कोई कानूनी कार्रवाई करवाई तो इसके बुरे नतीजे निकलेंगे। उन्होंने कहा कि उन्होंने बड़ी मुश्किल यह रकम इकट्ठा की थी लेकिन वो विदेश भेजने के नाम पर ठग लिए गए। उन्होंने पुलिस से मांग की कि आरोपित ट्रैवल एजेंटों से उनके बकाया पैसे ब्याज समेत वापस लौटाए जाएं। पुलिस ने अब उनके खिलाफ ठगी व ट्रैवल एक्ट के उल्लंघन का केस दर्ज कर लिया है।

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!