जालंधर, जेएनएन। माडल हाउस में बीती शनिवार देर शाम हुई महिला इंदु की मौत के मामले में स्वजनों ने रविवार को प्रदर्शन किया। करनाल से आए स्वजनों का कहना है कि महिला की मौत पिटाई से हुई है। वहीं इंदु के पति और डिस्पोजल व्यापारी परमजीत ग्रोवर का कहना है कि पत्नी को बीते कुछ दिनों से बुखार और जुखाम हो गया था। साथ ही उनके अंदर कोरोना वायरस जैसे लक्षण भी थे। इसके चलते वह अपनी पत्नी को लेकर कई अस्पतालों में गया, लेकिन कोरोना की रिपोर्ट न होने के चलते उसे कहीं भी जगह नहीं मिली और इलाज के अभाव में उनकी पत्नी ने शनिवार शाम को दम तोड़ दिया।

करनाल से आई महिला की बेटी संगीता ने आरोप लगाते हुए कहा कि उसकी मां इंदु की परमजीत से दूसरी शादी थी। शनिवार को उन्हें सूचना मिली कि उनकी मां इंदु की तबीयत खराब है। इसके बाद वह करनाल से जालंधर पहुंची, लेकिन तब तक मां की मौत हो चुकी थी। स्वजनों ने जब पोस्टमार्टम की बात की तो पति इन्कार करता रहा। स्वजनों ने पुलिस बुलाकर शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया तो पोस्टमार्टम के दौरान उसकी नाक की हड्डी टूटी हुई मिली और नाक के अंदर खून जमा हुआ था। हालांकि अभी पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आई है। इसके बाद महिला के स्वजनों ने उसके घर के बाहर शव को रखकर प्रदर्शन करना शुरू कर दिया।

पुलिस ने कहा, पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर होगी कार्रवाई

हंगामे की सूचना पर मौके पर पहुंचे थाना भार्गव कैंप के प्रभारी भगवंत सिंह भुल्लर ने बताया दोनों पक्षों के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद अगर कोई गड़बड़ी मिलती है तो बनती कार्रवाई की जाएगी। फिलहाल दोनों पक्षों को समझा-बुझाकर महिला का अंतिम संस्कार घास मंडी श्मशानघाट करवा दिया गया है।

 

 

 

 

 

 

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें