जालंधर, जेएनएन। देहात पुलिस के सीआइए स्टाफ ने साढ़े छह साल पहले कपूरथला में फाइनांसर व उसके पिता की हत्या के मामले में भगोड़ा चल रहे आरोपित को गिरफ्तार किया है। उसकी पहचान आदमपुर के गांव चखियारा निवासी जगजीत सिंह उर्फ जग्गा के रूप में हुई है। पुलिस ने उससे एक देसी पिस्टल और तीन कारतूस बरामद किए हैं। आरोपित के खिलाफ हत्या, लूट, डकैती, मारपीट व नशा तस्करी के कुल नौ मामले दर्ज हैं। जबकि कपूरथला हत्याकांड के अलावा 2011 में होशियारपुर में हुई लूट के मामले में भी वह भगोड़ा था। 27 जुलाई 2013 को कपूरथला में फाइनांस का काम करने वाले मनोज कुमार चोपड़ा और उनके पिता विजय चोपड़ा की उनके घर के बाहर हत्या कर दी गई थी।

सीआइए स्टाफ के इंचार्ज इंस्पेक्टर शिव कुमार ने बताया कि वह एएसआइ गुरविंदर सिंह सहित पुलिस पार्टी के साथ मंगलवार को खुर्दपुर में गश्त कर रहे थे। इस दौरान सूचना मिली की जगजीत एक देसी पिस्टल लिए हुए अपने गांव चखियारा से कठार जा रहा है। पुलिस ने उसे गांव चखियारा के पास दबोच लिया। उसकी तलाशी लेने पर उसके पास से एक देसी पिस्टल और तीन कारतूस बरामद हुए। उसके खिलाफ थाना थाना आदमपुर में आ‌र्म्स एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। 

थाना सिटी कपूरथला पुलिस ने दो अज्ञात सहित 11 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज किया था। इस केस में आरोपित भगोड़ा था। इंस्पेक्टर शिव कुमार ने बताया कि होशियारपुर के थाना हरियाना में 2011 में हुई डकैती के मामले भी जगजीत भगोड़ा था।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!