जालंधर, जेएनएन। कोरोना वायरस से बुरी तरह ग्रस्त हो रहे जालंधर शहर में शुक्रवार को कर्फ्यू में ढील मिलते ही लोगों ने जमकर अपनी मनमर्जी की, जिससे शहर में संक्रमण फैलने का खतरा और बढ़ गया। शहर में कई जगह छूट के नाम पर कर्फ्यू का जमकर उल्लंघन हुआ। जहां शहर में कोरोना लगातार अपने पांव पसार रहा है, तो वहीं इसका डर शहर के लोगों पर नजर नहीं आ रहा। लोगों ने ना तो शारीरिक दूरी के नियम को ध्यान में रखा और ना ही मास्क पहनना अनिवार्य समझा। 

शौक-शौक में ही दुकानें खोलने पहुंच गए कई दुकानदार

शहर के अंदरूनी बाजारों में दुकानें खोलने की इजाजत थी, लेकिन सिर्फ वही दुकानें, जिसके आस पास कोई दुकान न हो। हैरानीजनक रहा कि कई दुकानदारों ने शौक-शौक में ही दुकानें खोल ली। जरूरी सामान के साथ गैर जरूरी सामान की दुकानें भी खुली। फुला वाला चौक के पास तो कपड़े की दुकानें खोलकर लोग सफाई करने लगे। हालांकि पुलिस का हूटर सुनते ही सभी दुकान का शटर बंद कर निकल गए। 11 बजे के करीब शहर में पुलिस ने दुकानें बंद करवाई। वहीं दोपहर को भी कोई दुकानदार आधे शटर से सामान बेचते रहे। 

पुलिस ने भी दिखाई नरमी, सड़कों पर भी घूमते रहे लोग

कर्फ्यू में ढील दिए जाने के बाद शहर के चौराहों पर खड़ी पुलिस भी नरम ही दिखी। सड़कों पर आवाजाही आम दिनों के मुकाबले ज्यादा थी। चौराहों पर खड़ी पुलिस ने किसी को नहीं रोका और लोग बिना किसी काम के ढील मिलने के नाम पर घूमते रहे। 11:00 बजे के बाद पुलिस ने सख्ती दिखाई और लोगों को घर में भेजा।

Posted By: Vikas_Kumar

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!