जागरण संवाददाता, जालंधर। बुधवार को शहर के सफाई सेवक अचानक हड़ताल पर चले गए। उन्होंने यह कदम पिछले काफी दिनों से लंबित मांगें पूरी नहीं किए जाने के विरोध में उठाया है। यह हड़ताल अनिश्चितकालीन है और इस कारण आने वाले दिनों में शहर से कूड़ा नहीं उठने से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

बुधवार को नगर निगम कार्यालय में मांगों को लेकर धरने पर बैठे सफाई सेवक। उन्होंने अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा की है।

हड़ताल की घोषणा के बाद दोपहर को पंजाब सफाई मजदूर फेडरेशन, सीवरमैन इंप्लाइज यूनियन, सफाई मजदूर यूनियन, ड्राइवर एंड टेक्निकल वर्कर्स यूनियन, पंजाब स्टेट मुंसिपल कर्मचारी दल, माली बेलदार यूनियन, वाटर सप्लाई सीवर यूनियन, सफाई मजदूर संघ तथा एससीबीसी एम्पलाइज यूनियन ने संयुक्त रूप से नगर निगम कार्यालय में रोष प्रदर्शन किया। इस दौरान उन्होंने पंजाब सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। अनिश्चितकालीन हड़ताल की घोषणा करते हुए यूनियन के अध्यक्ष चंदन ग्रेवाल ने कहा कि जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं की जाती हैं, शहर से न तो कूड़ा उठाया जाएगा और न ही सफाई की जाएगी।

नगर निगम कार्यालय में धरने पर बैठे सफाई सेवक।

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!