जालंधर [मनुपाल शर्मा]। श्री माता वैष्णो देवी-जालंधर छावनी रेलखंड  के उपर स्थित लदेवाली रेलवे क्रॉसिंग के ऊपर ओवरब्रिज बनाए जाने की प्रक्रिया के दौरान निर्माण साइट के आस पास हुए निर्माण को गिराने से बचाने के लिए पीडब्ल्यूडी की तरफ से अब नया प्लान तैयार किया गया है। पीडब्ल्यूडी की तरफ से तैयार करवाए के नए प्लान को अब अप्रूवल के लिए मुख्यालय भेज दिया गया है और मुख्यालय से हरी झंडी मिलने के बाद ही आगे का काम शुरू किया जाना संभव होगा। पीडब्ल्यूडी की तरफ से नए तैयार करवाए के प्लान में सड़क के दाईं तरफ हुए निर्माण से पहले भूमिगत कंक्रीट की दीवार बनाने की योजना है। कंक्रीट की दीवार बना दिए जाने के चलते खुदाई के दौरान सड़क के दाएं तरफ बनाई गई दुकानों एवं आवासीय भवनों के ऊपर कोई असर न होने की संभावना है। रेलवे ओवरब्रिज निर्माण के लिए लगभग 2 से 4 मीटर तक जगह कम पड़ रही है। जिस वजह से निर्माण गिराए जाने की अटकलें लग रही थी। 

रेलवे क्रॉसिंग के आगे सीवरेज शिफ्टिंग का काम अटका

हालांकि चौगिट्टी चौक से लेकर रेलवे क्रॉसिंग तक सीवरेज शिफ्टिंग के काम को निपटा लिया गया है और अब अप्रोच रोड के लिए नींव तैयार करने का कार्य किया जा रहा है। रेलवे क्रॉसिंग के आगे सीवरेज शिफ्टिंग का काम पर्याप्त जगह उपलब्ध होने पर ही शुरू हो पाएगा। रेलवे ओवरब्रिज निर्माण के लिए पीडब्ल्यूडी की तरफ से 18 महीने की समय सीमा कंपनी को प्रदान की गई है। सीवरेज शिफ्टिंग का कार्य इसमें शामिल नहीं होगा। उसके लिए अलग से समय दिया गया है।

अब प्लान को अप्रूवल मिलने का इंतजार

अब नए तैयार करवाए गए प्लान का अप्रूवल मिलने का इंतजार किया जा रहा है। यही वजह है कि बीते लगभग 2 सप्ताह से सीवरेज शिफ्टिंग के लिए रेलवे क्रॉसिंग के आगे वाले हिस्से में खुदाई का काम शुरू नहीं हो पाया है। हालांकि भूमिगत बिछाई जाने वाली कंक्रीट की पाइप पहले ही निर्माण साइट पर पहुंचाई जा चुकी हैं।