जालंधर, जेएनएन। कोरोना की चपेट में आने वाले लोगों की गिनती लगातार बढ़ती जा रही है। सोमवार को शहर के 366 लोग कोरोना की चपेट में आए और पांच लोगों की कोरोना के कारण मौत हुई है। इसके साथ ही जिले में कोरोना के कुल मरीजों का आंकड़ा 34 हजार पार कर गया है। सेहत विभाग के अनुसार जेपी नगर से दो, दयाल नगर से एक, गुरु नानकपुरा वेस्ट से दो, जालंधर हाइट से चार, ज्योति नगर से एक, ग्रीन पार्क से दो, गुरु  अमर दास नगर से दो, ज्वाला नगर से चार, गाव शंकर से चार, चीमा कलां से चार, गुरु तेग बहादुर नगर से दो, बस्ती बावा खेल से दो, सैनिक अस्पताल से दो, माडल टाउन से तीन, गोबिंद नगर से दो, रमेश्वर कालोनी से पांच, गुजराल नगर से दो, सिल्वर हाइट से एक, सूफी पिंड से तीन, मिलाप चौंक से तीन, माडल टाउन से चार, अर्बन एस्टेट से चार, विजय नगर से दो, टावर एनक्लेव से दो, छोटी बारादरी से दो, शहीद भगत सिंह कालोनी से तीन, फिल्लौर से छह मरीज कोरोना संक्रमित पाए गए है।

सेहत विभाग के नोडल अधिकारी डा. टीपी सिंह ने कहा कि लोगों की लापरवाही के कारण संख्या थम नहीं रही। कोरोना के कुल मरीजों का आंकड़ा 34360 पहुंच चुका है। सोमवार तक 817788 लोगों के सैंपल लिए गए है, जिनमें 739676 लोगों की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। अब तक 989 मरीजों की मौत कोरोना से हो चुकी है।

नोडल अधिकारी डा. टीपी सिंह ने कहा कि जिले में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ने का मुख्य कारण लोगों की ओर से कोरोना को हल्के में लेना है। लोग कोरोना से बचाव के लिए जारी हिदायतों का पालन नहीं कर रहे है और घर से बाहर जाते समय मास्क का प्रयोग नहीं कर रहे है। इसके अलावा बाजारों में भी शारीरिक दूरी का ध्यान नहीं रखा जा रहा है, जिस कारण जिले में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे है।

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

 

 

 

 

 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें


 

 

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप