जालंधर, जेएनएन। पेट्रोल और डीजल की कीमतों में लगातार हो रही बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस के राष्ट्रव्यापी धरना प्रदर्शन की कड़ी में कांग्रेसी नेताओं ने शहर में कई जगह पेट्रोल पंपों के बाहर धरना प्रदर्शन किया। वेस्ट हलके में विधायक सुशील रिंकू के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने छह पंपों पर धरने दिए।

विधायक राजिंदर बेरी के नेतृत्व में खालसा कालेज के बाहर पेट्रोल पंप पर हुए धरने में सांसद चौधरी संतोख सिंह, प्रधान बलदेव सिंह देव समेत कांग्रेस नेताओं ने थालियां खड़का कर केंद्र सरकार के खिलाफ नाराजगी जताई। कई नेताओं ने अलग ढंग से नाराजगी जताई। कांग्रेस नेता मनोज अग्रवाल साथियों के साथ टांगा पर सवार होकर प्रदर्शन पर निकले तो यूथ नेता जगदीप सिंह सोनू संधर साइकिल पर काला झंडा लगा कर केंद्र सरकार के खिलाफ शहर में प्रदर्शन करते रहे।

विधायक सुशील कुमार रिंकू ने कहा कि जब यूपीए सत्ता में थी तब पेट्रोल और डीजल पर टैक्स 9.20 रुपये था और अब मोदी सरकार के समय यह 32 रुपये हो गया। उन्होंने सरकार से पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी वापस लेने की मांग की। सांसद चौधरी संतोख सिंह ने मांग की कि पेट्रोल और डीजल की कीमतों में कटौती की जाए। बेरी ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय कीमतें कम हैं, लेकिन सरकार ने एक्साइज ड्यूटी बढ़ाकर लोगों को राहत नहीं दी। इस अवसर पर पार्षद लखबीर सिंह बाजवा, मनमोहन राजू, पार्षद बचन लाल, पार्षद सुच्चा सिंह, पार्षद तरसेम लखोत्रा, योगेश मल्होत्रा, हरविंदर लाडा, कीमती भगत, संदीप वर्मा, जल्ला प्रधान, सोनू ढल्ल, हंस राज ढल्ल, अजय बब्बल, गुरप्यार सिंह, बलजीत सिंह, हरभजन सिंह, मदन लाल लोच, शिब्बू लोहारिया, सुरजीत सिंह मुसाफिर, आकाश भगत मौजूद रहे।

Edited By: Vikas_Kumar