जागरण संवाददाता, जालंधर। नगर निगम कमिश्नर दविंदर सिंह की कार्यप्रणाली को लेकर कांग्रेस के पार्षद भड़क गए हैं। पार्षदों ने वीरवार को कमिश्नर से मिलकर शहर में सभी जरूरी काम रुकने का मुद्दा रखने का फैसला किया था लेकिन मुलाकात नहीं हो सकी। पार्षद निगम परिसर पहुंचे तो पता लगा कि कमिश्नर छुट्टी पर हैं। इसके बाद मेयर जगदीश राज राजा से मिले पार्षदों ने कहा कि सफाई व्यवस्था, सड़क, सीवरेज, स्ट्रीट लाइट के हालात बिगड़ गए हैं।

पार्षद मनमोहन राजू, गुरविंदर सिंह बंटी नीलकंठ, पवन कुमार, विपन चड्ढा, अवतार सिंह, प्रभदयाल, तरसेम सिंह लखोत्र व जगजीत सिंह जीता ने कहा कि निगम कमिश्नर कार्यालय में रूटीन में भी कम आ रहे हैं। इस वजह से सभी काम लंबित हो गए हैं। उन्होंने कहा कि सीवरेज और सफाई व्यवस्था जैसे जरूरी कार्यों के टेंडर और फाइलों को भी पास नहीं कर रहे हैं। ट्यूबवेलों के आपरेशन व मरम्मत का टेंडर भी रोका गया है जिससे कई बार पानी की किल्लत आ चुकी है।

उन्होंने कहा कि जनता के हित में जरूरी है कि यह सारे मसले निकाय मंत्री के सामने रखे जाएं। पार्षद मनमोहन राजू ने कहा कि मेयर ने सहयोग करने का आश्वासन दिया है और कहा कि वह उनके साथ जाने को तैयार हैं। राजू ने कहा कि शुक्रवार को एक बार फिर कमिश्नर से मुलाकात करने की कोशिश की जाएगी। नहीं मिलते तो चंडीगढ़ जाकर निकाय मंत्री से शिकायत की जाएगी।

सीवरमैन यूनियन मिली, सीवरेज लाइन ठप होने का खतरा

सीवरमैन इंप्लाइज यूनियन के प्रधान पवन बाबा और उनके साथियों ने भी मेयर से बैठक की और काम में आ रही रुकावट बारे में बताया। बाबा ने कहा कि बार-बार मांग के बावजूद भी सीवरमैन को सफाई के लिए बांस, रस्सी, राड जैसी छोटी-मोटी चीजें भी नहीं मिल रही है। इससे काम ठप हो गया है। आने वाले दिनों में सीवरेज व्यवस्था चरमरा जाएगी और परेशानी ङोलनी पड़ेगी।

कई दिनों से सीवरेज जाम

पार्षद वंदना भुल्लर के वार्ड क्षेत्र 55 में कई दिनों से सीवरेज जाम की समस्या बनी हुई है। कोट किशनचंद इलाके में सीवरेज का गंदा पानी ओवरफ्लो करके सड़कों पर आ गया है। लोगों ने कहा कि इसके बारे में पार्षद और नगर निगम को कई बार शिकायत की गई है लेकिन सुनवाई नहीं हुई। आवाजाही प्रभावित हो रही है। बच्चों का घरों से निकलना मुश्किल हो रहा है और बदबू के कारण बीमारियां फैलने का खतरा बना हुआ है।

मोहल्लों से नहीं उठ रहा कूड़ा

ट्रैक्टर-ट्रालियों के ठेकेदार के काम बंद करने से मोहल्लों से कूड़ा उठाने का काम ठप हो गया है। ठेकेदार की ट्रैक्टर-ट्रालियां बलर्टन पार्क में खड़ी है। सबसे ज्यादा असर जालंधर वेस्ट हलके में पड़ रहा है क्योंकि वेस्ट हलके में बस्तियों के तंग इलाकों से कूड़ा उठाने का काम ट्रैक्टर-ट्रालियों के जिम्मे ही था। नगर निगम हेल्थ अफसर डा. श्रीकृष्ण शर्मा ने बस्तियों को दौरा करके हालात का जायजा लिया।

Edited By: Pankaj Dwivedi