जागरण संवाददाता, जालंधर। टिकटों के लिए कांग्रेस में मची घमासान के बीच जालंधर केंद्रीय से कांग्रेस प्रत्याश निवर्तमान विधायक राजेंद्र बेरी और मेयर जगदीश राज राजा के बीच में समझौता हो गया है। सांसद चौधरी संतोख सिंह के घर पर हुई मीटिंग के बाद मेयर का गुट मान गया है। बैठक के बाद विधायक राजिंदर बेरी और और मेयर जगदीश राजा एक साथ हाथ उठाकर चित्र भी खिंचवाया। दावा किया जा रहा है कि सब एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। बता दें कि मेयर जगदीश राजा केंद्रीय विधानसभा हलके में लंबे समय से सक्रिय थे। विधायक राजिंदर बेरी को टिकट दिए जाने के बाद उनके साथ पार्षद डा. जसलीन सेठी ने नाराजगी जताई थी। 

सांसद संतोख सिंह चौधरी के घर पर हुई बैठक में मेयर जगदीश राज राजा, पार्षद डा. जसलीन सेठी, मनमोहन राजू, गुरविंदर सिंह बंटी नीलकंठ समेत अन्य नाराज नेताओं ने हिस्सा लिया। इसमें विधायक राजिंदर बेरी भी मौजूद रहे। दावा किया जा रहा है कि जाइंट मीटिंग में गिले-शिकवे दूर हो गए।

दरअसल, मेयर जगदीश राज राजा भी जालंधर सेंट्रल हलके से टिकट की मांग कर रहे थे। डा. जसलीन सेठी ने भी टिकट पर दावा ठोक रखा है। इस वजह से केंद्रीय हलके में 3 गुट बन गए थे। विधायक बेरी को टिकट मिल गई है लेकिन ये नेता साथ चल नहीं चल रहे। अब सभी के साथ आने से विधायक बेरी को चुनावी मुहिम में लाभ मिलेगा।

विधायक बेरी ने दूर की टकसाली कांग्रेसियों की नाराजगी

इससे पहले, सुबह पार्टी में एडजस्टमेंट न होने के कारण लंबे समय से नाराज चल रहे टकसाली कांग्रेसी आखिरकार मान गए हैं। शुक्रवार सुबह विधायक राजिंदर बेरी ने सभी की नाराजगी दूर की। त्रिलोक सिंह सरां, परमजीत सिंह बल, सोनू शर्मा, सोमनाथ चौगिट्ठी व अन्य अब पार्टी की मजबूती के लिए काम करने को जुट गए हैं। टकसाली कांग्रेसियों और मेयर गुट से नाराजगी के बाद विधायक बेरी के लिए काफी रात रहेगी।

Edited By: Pankaj Dwivedi