सुक्रात, जालंधर:पीएपी में तैनात एआइजी कंट्रोल रूम सुनील कुमार की माता शीला पत्‍‌नी रोशन लाल की अज्ञात व्यक्तियों ने गला घोंटकर हत्या कर दी। घटना उस समय चला जब शीला की बेटी प्रवीण कुमारी जो नहरी पटवारखाने में काम करती है, आई लेकिन दरवाजा अंदर से बंद था। बार-बार खटखटाने पर जब नहीं खोला तो पड़ोसियों की मदद से छत के रास्ते आकर देखा की माता बेड पर मरी पड़ी है। उसके हाथ की चूड़ी, कानों की बालिया गायब है। सूचना मिलते ही एडीसीपी क्राइम गुरमेल सिंह एडीसीपी पीएस भंडाल, सीआइए इंचार्ज अजय कुमार दलबल सहित मौके पर पहुंचे।

लूट का लग रहा मामला

एडीसीपी क्राइम गुरमेल सिंह ने बताया कि फिलहाल मामला लूट का लग रहा है। दरवाजा अंदर से बंद था जिससे हत्यारा छत के रास्ते आया होगा। अभी जाच की जा रही है जिसके बाद ही कुछ कहा जा सकता है। बताया जा रहा है कि हत्यारे ने गला घोटकर उनकी हत्या की और वहा से लूटपाट भी की है। एआइजी सरीन कुमार प्रभाकर इससे पहले पंजाब के आईजी क्राइम थे। अभी उनकी ड्यूटी फिलहाल पीएपी में है। हत्या की सूचना पाकर मौके पर पुलिस अफसर पहुंच गए हैं

मृतका के पति की भी आतंकियों ने की थी हत्या

प्राइमरी स्कूल दकोहा के पास रहते पीएपी में यह घटाना हुई जिससे वहां दहशत का माहौल कायम हो गया है। बताया जा रहा है कि जिस समय यह घटना हुई उस समय महिला अपने घर में अकेली थी। फिलहाल कोई तेजधार हथियार से चोट की कोई सूचना नहीं है। बताया जा रहा है कि मृतका के पति की भी आतंकियों ने हत्या की थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!