जागरण संवाददाता, जालंधर :लवली प्रोफेशनल यूनिवर्सिटी (एलपीयू) विद्यार्थियों को वैश्विक अनुभव प्रदान करने के लिए स्टडी एक्सचेंज प्रोग्राम विकसित कर विभिन्न यूनिवर्सिटी के साथ काम कर रही है। कनाडा के लैंगारा कालेज के 80 विद्यार्थी व एलपीयू के 50 विद्यार्थी संयुक्त रूप से वर्चुअल एक्सचेंज सत्र में अध्ययन कर रहे हैं। इन सत्र को लैंगारा कालेज और एलपीयू दोनों के ह्यूमेनिटीज विभागों द्वारा सह-डिजाइन किया गया है। सत्र को लैंगारा कालेज के प्रो. डा. अवराम अगोव व एलपीयू की प्रो. डा. मनु शर्मा ने संबोधित किया। कार्यक्रम में दो सत्र थे। प्रति सत्र में छह सप्ताह का कार्यक्रम है। पहले दो हफ्तों में विभिन्न देशों और इलाकों के विद्यार्थी छोटे समूहों के माध्यम से एक दूसरे के साथ बातचीत कर सांस्कृतिक अनुभव सांझा करते हैं। चार सप्ताह में विद्यार्थी फैकल्टी द्वारा तय किए गए कार्यक्रमों में भाग लेते हैं। पहले सत्र में एलपीयू की डा. मनु ने अब तक जिन दिलचस्प विषयों को छुआ है, वे हैं वैदिक परंपरा (योग, आयुर्वेद), उत्तर वैदिक सभ्यता, प्राचीन भारत, प्राचीन मध्य पूर्व और पूर्वी एशिया में महिलाएं। इसी तरह प्रोफेसर डा. अवराम अगोव ने एशिया के बारे में ऐतिहासिक तथ्य साझा किए। यूनिवर्सिटी की डा. मनु शर्मा का कहना है कि कार्यक्रम एक बहुसांस्कृतिक सीखने के माहौल विकसित किया जा रहा है। पहले सत्र में फारस से कोरिया तक एशिया की प्राचीन संस्कृति का पता लगाने के लिए थी। अगला सत्र 28 जनवरी से शुरू होगा।

Edited By: Jagran