जागरण संवाददाता, जालंधर। पंजाब गोल्फ एसोसिएशन की ओर से रणजीत गढ़ गोल्फ क्लब फिल्लौर पीएपी में पीजीए कप पंजाब स्टेट गोल्फ चैंपियनशिप करवाई गई। चैंपियनशिप में विभिन्न गोल्फर ने हिस्सा लेते हुए अपनी प्रतिभा और खेल भावना का परिचय दिया। हर खिलाड़ी में प्रतिभा देखी जा सकती थी। चैंपियनशिप में पीएपी के इंस्पेक्टर बलविंदर सिंह ने 292 यार्ड का लांगेस्ट ड्राइव लगाकर खिताब अपने नाम किया। वहीं इन्विटेशनल कैटेगरी में नितिन मित्तल ने पहला, कर्नल बीएस राथी ने दूसरा स्थान प्राप्त किया।

ग्रोस कैटिगरी में एचएस भुल्लर ने पहला वडीके सिंह ने दूसरा स्थान प्राप्त किया। वहीं मेन इवेंट में कैलाश ने पहला मनोज ने दूसरा वरणवीर सिंह ने तीसरा स्थान प्राप्त किया। स्ट्रेट ड्राइव में स्नेहदीप ने भी पहला स्थान प्राप्त किया। इंस्पेक्टर बलविंदर सिंह ने कहा है कि सबसे लंबा ड्राइव लगाकर खिताब अपने नाम करना खुशी की बात है। कई अंतरराष्ट्रीय गोल्फ टूर्नामेंट में भी कई खिताब अपने नाम कर चुके हैं। उन्होंने कहा है कि गोल्फ में खिलाड़ियों की रूचि बढ़ रही है। कई खिलाड़ी गोल्फ खेलकर देश का नाम रोशन कर रहे हैं। गोल्फ में करियर की अपार संभावनाएं हैं। पढ़ाई के साथ-साथ युवा पीढ़ी को खेलों में भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लेना चाहिए। हर बच्चे में एक प्रतिभा छुपी होती है। खेल ऐसा माध्यम है इस प्रतिभा का निखार कर सकती है।

इंस्पेक्टर बलविंदर सिंह ने कहा है कि पीएपी में भी गोल्फ का मैदान है जिसमें हर वर्ग के लोग गोल्फ का लुफ्त उठाते हैं। उन्होंने कहा है कि खेल कोई भी हो खेलना जरूरी होता है। खेलें जीवन का अहम हिस्सा है। इसलिए जीवन में खेलों का अहम योगदान रहा है। इसलिए हर वर्ग के लोगों को किसी ना किसी केल के साथ जोड़ना चाहिए। कई युवा पीढ़ी नशे की दलदल में फंस कर अपना करियर खराब कर देते हैं। कई युवा पीढ़ी इस दलदल में फंस भी चुकी है। इसलिए पंजाब की जवानी को बचाने के लिए नशे की लत से युवा पीढ़ी को दूर रहना चाहिए।

Edited By: Vinay Kumar