जेएनएन, जालंधर। काउंटर इंटेलीजेंस और कपूरथला की पुलिस ने चार सौ ग्राम हेरोइन और छह लाख की ड्रग मनी के साथ दो महिलाओं सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपितों की पहचान महावीर एन्क्लेव, गली नंबर पांच, साउथ दिल्ली निवासी मां-बेटी फामिदा व फरहा तथा जालंधर के अली मोहल्ला निवासी सूरज कल्याण के रूप में हुई है। इस अंतर्राज्यीय हेरोइन तस्करी के नेटवर्क का मास्टरमाइंड सिंकदर कल्याण कत्ल मामले में कपूरथला जेल में उम्रकैद की सजा काट रहा है।

जालंधर के अली मोहल्ला का रहने वाला सिकंदर जेल से ही नशा तस्करी का नेटवर्क चला रहा था। सिंकदर ने अपने सगे भाई सूरज कल्याण को दिल्ली की महिलाओं से हेरोइन लाने के लिए कहा था। सूरज के गिरफ्तार होने के बाद पुलिस ने जेल प्रबंधन से बात की। जेल में तलाशी के दौरान सिकंदर से एक मोबाइल व सिम बरामद किया गया है। एआइजी काउंटर इंटेलिजेंस जालंधर हरकमलप्रीत सिंह खख ने कहा कि उन्हें सूचना मिली थी कि जेल में बंद सिकंदर का नाइजीरियन नशा तस्करों से संबंध हैं। वह कत्ल केस में बरी हुए अपने भाई सूरज कल्याण के जरिए दिल्ली से हेरोइन की खेप मंगवा रहा है। जिसे दिल्ली से दो महिलाएं लेकर आ रही हैं। सूरज उनसे हेरोइन लेकर फगवाड़ा में तस्करों को सप्लाई करेगा।

खख के अनुसार इस सूचना के आधार पर एसएसपी कपूरथला सतिंदर सिंह से संपर्क कर एक संयुक्त टीम का गठन कर टीम को फगवाड़ा भेजा गया। फगवाड़ा में नाकाबंदी के दौरान एक टोयोटा एटियोस कार को रोककर तलाशी ली गई। कार में पड़ी एक मेडिकल किट से चार ग्राम हेरोइन और छह लाख रुपये बरामद किए गए। यह रकम आरोपितों ने ड्रग्स बेच कर इकट्ठा की थी। कार में सवार सूरज कल्याण और दोनों महिलाओं को गिरफ्तार कर लिया गया। आरोपितों को अदालत में पेश कर रिमांड हासिल किया जाएगा और पूछताछ में हेरोइन सप्लाई लेने वालों के नाम सामने आने की उम्मीद है।

जेल से चला रहा था सारा नेटवर्क
सिकंदर कल्याण जेल से सारा नेटवर्क चला रहा था। सूरज ने पुलिस को बताया कि सिंकदर उसको फोन पर हेरोइन मिलने की जगह और समय के बारे में बताता था। सूरज से मिली जानकारी के बाद जेल में सिकंदर से मोबाइल और सिम कार्ड बरामद किया गया। पुलिस इस मामले में सिकंदर को भी प्रोडक्शन वारंट पर लाकर पूछताछ करेगी।

पहले भी सिकंदर के कहने पर सूरज को हुई है हेरोइन की सप्लाई
पुलिस जांच में सामने आया है कि जेल में सिकंदर कल्याण ने नाइजीरियाई तस्करों के साथ अपने संबंध बढ़ाए और अपने भाई सूरज को दिल्ली में बैठे तस्करों से ड्रग्स लेने के लिए कहा। इससे पहले सूरज दो बार दिल्ली के तस्करों से 100-100 ग्राम हेरोइन ले चुका है। पुलिस इस बारे में पता लगा रही है कि पहले लाई गई हेरोइन कहां पर मिली थी और किस किस को सप्लाई हुई है।

नशे के कारोबार को लेकर हुआ था कत्ल
17 जून 2018 मंगलवार रात को अर्जुन नाम के युवक की कुछ लोगों ने तेजधार हथियारों से हत्या कर दी थी। सिकंदर कल्याण और उसके भाई सूरज सहित कुछ अन्य लोगों पर हत्या का आरोप लगा था। इस केस में सिकंदर कल्याण को उम्रकैद की सजा हुई थी और उसका भाई सूरज बरी हो गया था।
 

हरियाणा की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

पंजाब की ताजा खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें 

 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!