जागरण संवाददाता, जालंधर। वरिष्ठ अकाली दल नेता एवं सांसद हरसिमरत कौर बादल ने बुधवार को जालंधर दौरे में दिव्यांग विश्व चेस चैंपियन मल्किका हांडा से उनके घर पर मुलाकात की। मल्लिका हांडा ने इशारों से पूर्व केंद्रीय मंत्री को अपनी खेल की उपलब्धियों और समस्याओं के बारे में बताया। मल्किका हांडा के साथ इस मौके पर उनका पूरा परिवार भी मौजूद था। मां रेणु हांडा ने हरसिमरत कौर बादल को बताया कि 10वीं से मल्लिका चेस खेल रही है। वह दस बार नेशनल में स्वर्ण पदक जीत चुकी है। छह बार अंतरराष्ट्रीय चेस टूर्नामेंट में जीत दर्ज की है। इस कैटेगरी में मल्लिका देश की पहली खिलाड़ी है, जिसने बेहतर प्रदर्शन किया है।

मां रेणु ने आरोप लगाया कि पंजाब सरकार ने बेटी की उपलब्धियों की अनदेखी की है। उसे अब तक सरकार की ओर से कोई अवार्ड नहीं दिया गया है। ना ही बेटी को जाब मिली है। उनकी बातें सुनने के बाद हरसिमरत कौर बादल ने उन्हें आश्वासन दिया कि वह केंद्रीय खेल मंत्री अनुराग ठाकुर को इसे लेकर पत्र लिखेंगी।

पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मल्लिका को उसका हक दिलाया जाएगा। आगामी विधानसभा चुनाव में पंजाब में अकाली दल-बसपा सरकार आती है तो पहल के आधार मल्ल्किा को हक मिलेगा। उन्होंने कहा कि मल्लिका पंजाब की बेटी है। उसने जालंधर के साथ-साथ पंजाब का नाम रोशन किया है। मल्लिका ने इशारों के माध्यम से हरसिमरत को घर आने का धन्यवाद किया। इस दौरान उपलब्धियों संबंधी बायोडेटा भी हरसिमरत कौर को सौंपा।

बता दें कि हरसिमरत कौर बुधवार को जालंधर के व्यस्त दौरे पर हैं। उन्होंने पहले जालंधर कैंट में धार्मिक स्थलों का दौरा किया और उसके बाद वहां से पार्टी प्रत्याशी जगबीर बराड़ के साथ प्रेस कांफ्रेंस करके लोगों से तमाम वादे किए। हरसिमरत कौर का धन्नोवाली गांव में नवजौत कौर के घरवालों से मिलने का भी कार्यक्रम है। नवजौत कौर को मंगलवार को हाईवे क्रास करते समय पुलिस इंस्पेक्टर की कार ने टक्कर मार दी थी। उसकी मौत के बाद गुस्साए लोगों ने हाईवे जाम कर दिया था। 

Edited By: Pankaj Dwivedi