जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में पीएपी सर्विस लेन बंद होने के बाद हाईवे पर पहुंचने के लिए वैकल्पिक मार्ग के तौर पर प्रयोग किए जाने वाले गुरु नानक पुरा रोड से आगामी दो दिन तक गुजरना संभव नहीं होगा। अति व्यस्त जालंधर-दिल्ली रेल खंड पर स्थित गुरुनानक पुरा रेलवे क्रॉसिंग को आगामी दो दिन के लिए बंद रखा जा रहा है। रेलवे क्रॉसिंग के बीचो-बीच इंटरलॉकिंग टाइल्स ऊबड़ खाबड़ हो चुकी थी, जिस वजह से ट्रैफिक को गुजरने में भारी परेशानी का सामना करना पड़ता था। टाइलों के ऊबर खाबड़ होने की वजह से कुछ वाहन आपस में टकरा जाते थे और रेलवे क्रॉसिंग को पार करने में भी लंबा समय लगता था।

इस वजह से ट्रेन निकलने के बाद रेलवे क्रॉसिंग पर ट्रैफिक जाम जैसी स्थिति उत्पन्न हो जाती थी। अब रेलवे के इंजीनियरिंग विभाग की तरफ से शनिवार सुबह से इस रेलवे क्रॉसिंग को बंद कर मशीन लगाकर पुराने फ्लोर को उखाड़ा जा रहा है और उसे आगामी दो दिन के भीतर दोबारा से समतल तरीके से बिछा दिया जाएगा। वहीं, रेलवे क्रॉसिंग के बंद होने से शहर के भीतर से हाईवे पर जाने के लिए अब लोगों को वाया रामामंडी घूम कर आना पड़ रहा है। लाडोवाली रोड टी-पॉइंट के ऊपर भी वाहनों के मुड़ने की वजह से ट्रैफिक फंस कर निकल रहा है।

इस रेलवे क्रांसिग के ऊपर ओवरब्रिज बनाने के लिए पंजाब सरकार एवं रेलवे की तरफ से भी सहमति दी जा चुकी है। लेकिन अभी तक प्रकिया अमलीजामा नहीं पहन सकी है। बता दें कि विधायक राजिंदर बेरी ओवरब्रिज का निर्माण स्मार्ट सिटी फंड के तहत करवाना चाहते हैं। इस संबंध में स्थानीय प्रशासन एवं पंजाब सरकार की तरफ से भी अनुमति दी जा चुकी है लेकिन दिल्ली से अभी तक इस को लेकर कोई अनुमति नहीं मिल सकी है।

Edited By: Vinay Kumar