जागरण संवाददाता, अमृतसर। मत्तेवाल थाना पुलिस ने एक गांव के गुरुद्वारा साहिब के ग्रंथी पर दुष्कर्म के आरोप में केस दर्ज किया है। पी ड़िता ने आरोप लगाया कि ग्रंथी जगराज सिंह ने उसके घर में घुसकर उसकी नहाते वक्त फोटो खींच दी और फिर उसे ब्लैकमेल करने लगा। इधर, पुलिस ने एफआइआर में धार्मिक भावनाएं भड़काने, दुष्कर्म और आइटी एक्ट की धाराओं को भी जोड़ दिया है। इंस्पेक्टर भूपिंदर कौर ने बताया कि आरोपित की गिरफ्तारी के लिए छापामारी की जा रही है। उधर, सरकारी अस्पताल में पीड़िता का मेडिकल भी करवाया जा रहा है।

पीड़िता ने मत्तेवाल थाना पुलिस को बताया कि जब्बेवाल गांव का जगराज सिंह गांव के गुरुद्वारे में बतौर ग्रंथी है। वह उस पर बुरी नजर रखता था। साल 2020 में वह अपने घर में नहा रही थी। मौका पाकर किसी तरह जगराज सिंह उसके घर में घुस आया और उसकी अश्लील फोटो खींच ली। घटना के कुछ दिन बाद जब वह गुरुद्वारे में गई तो जगराज सिंह ने उसे अकेले में बुलाकर अश्लील हरकतें करनी शुरू कर दी।

युवती के मुताबिक जब उसने विरोध किया तो आरोपित ने उसे नहाते हुए की अश्लील फोटो दिखाई। कहा कि अगर उसने विरोध किया या शोर मचाया तो वह इन फोटो को वायरल कर देगा। इसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करने लगा। युवती ने बताया कि ग्रंथी ने उसे शारीरिक संबंध बनाने के लिए मजबूर करना शुरू कर दिया। फिर जगराज सिंह उसे अलग-अलग जगह पर मिलने के लिए बुलाता रहा और वह भी डरती हुई आरोपित के कहने पर उससे मिलने जाती रही।

अप्रैल 2021 में एक दिन फिर आरोपित ने उसे गुरुद्वारा में बुलाया। वह परिवार को बताकर गई कि वह माथा टेकने जा रही है। फिर ग्रंथी जगराज सिंह ने उसे धमकाया और अपने कमरे में बुला लिया। अश्लील फोटो वायरल की धमकी मिलते ही वह उसके कमरे में चली गई। वहां आरोपित ने उसके साथ दुष्कर्म किया। पीड़िता ने बताया कि आरोपित इस तरह कई बार उसे अपने पास बुलाता रहा। 21 अक्टूबर को उसने अपने परिवार को सारी घटना की जानकारी दी। परिवार ने फिर किसी तरह पुलिस को शिकायत दी और केस दर्ज करवाया।

Edited By: Kamlesh Bhatt