जागरण संवाददाता, जालंधर। जालंधर में सोमवार सुबह प्रताप बाग के पास स्थित बहल इलेक्ट्रिकल कंपनी के गोदाम में आग लग गई। घटना के समय गोदाम में कोई नहीं था। घटना की जानकारी तब हुई जब लोगों ने गोदाम के शटर से धुंआ निकलता देखा। सूचना के आधे घंटे बाद दमकल विभाग की गाड़ियां पहुंची। तीन गाड़ियों और स्थानीय लोगों ने एक घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। हालांकि आग लगने के कारणों का अब तक पता नहीं चल सका। आशंका जताई जा रही है कि आग शार्ट-सर्किट के चलते लगी होगी।

अमोह बहल ने बताया कि सोमवार सुबह उन्हें किसी ने सूचना दी थी कि उनके गोदाम के शटर से धुंआ निकल रहा है। गोदाम पर पहुंचने पर पता लगा कि गोदाम में आग लगी हुई थी। उनका लाखों का सामान जलकर खाक हो गया है। उधर फायर अफसर रजिंदर ने बताया कि सूचना के बाद जब फायर ब्रिगेड की गाड़ियां घटनास्थल के लिए निकली थीं तो जाम में फंस गई इसलिए देरी हुई।

एडीसीपी पर हमला करने वाले पांच लोगों पर केस दर्ज

जालंधर कमिश्नरेट पुलिस में तैनात एडीसीपी अश्विनी कुमार और उनके साथियों पर रविवार देर रात लद्देवाली में हमला करने के आरोप में पंजाब एवेन्यू निवासी एडीसीपी के पड़ोसी परमजीत सिंह, उसके बेटे जिम्मी, परमजीत सिंह की पत्नी और दो अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। आरोपित घरों से फरार हो गए। थाना रामामंडी की पुलिस को दी शिकायत में आदर्श नगर निवासी रोहित चड्ढा ने बताया था कि वह अपने दोस्त टैगोर नगर निवासी धर्मपाल के साथ एडीसीपी अश्विनी कुमार को कार में छोड़ने के लिए पंजाब एवेन्यू स्थित घर गया था। जब उन्होंने अश्विनी कुमार को गाड़ी से उतारा तो वह भी गाड़ी से उतर कर खड़े हो गए। इसी बीच अश्विनी कुमार का पड़ोसी परमजीत सिंह अपने बेटे जिम्मी और उसकी पत्नी के साथ वहां आया और गाली-गलौज करने लगा।

Edited By: Vinay Kumar