जागरण संवाददाता, जालंधर। केंद्र सरकार द्वारा श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने के फैसले का जालंधर जिले के विभिन्न सिख संगठनों ने स्वागत किया है। गुरुद्वारा बगला साहिब दिल्ली के चेयरमैन और शिरोमणि अकाली दल (ब) के स्टेट को-ऑर्डिनेटर भूपिंदर सिंह खालसा ने कहा कि केंद्र सरकार का फैसला ऐतिहासिक है। इसके लिए वरिष्ठ अकाली नेता स्व. कुलदीप सिंह वडाला ने 18 वर्षों तक डेरा बाबा नानक पर जाकर अरदास की थी। उसके बाद उनके पुत्र विधायक गुरुप्रताप सिंह वडाला ने भी यह परंपरा जारी रखी।

उन्होंने कहा कि देश भर के गुरुघरों में रोजाना इसके लिए अरदास भी की जाती रही है। श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर खोलने से समूची संगत अब पिछले लंबे समय से अपने से बिछड़े गुरु घरों के दर्शन कर सकेंगे। उन्होंने कहा कि अब दोनों देशों को मिलकर कॉरिडोर खोलने की अन्य तमाम औपचारिकताएं पूरी करनी चाहिए। इस मौके पर उनके साथ कुलवंत सिंह दालम, पंथक कवि डॉ. सतबीर सिंह शान, जोगिंदर सिंह जेएस अन्य मौजूद थे।
इधर, सिखों की सिरमौर संस्था सिख तालमेल कमेटी ने फैसले की सराहना करते हुए वडाला परिवार और केंद्र सरकार का आभार जताया। संस्था के प्रमुख तेजिदंर सिंह परदेसी, हरपाल सिंह चड्ढा, हरप्रीत सिंह नीटू और परमिंदर सिंह दशमेश नगर ने कहा कि टकसाली दिवंगत नेता जत्थेदार कुलदीप सिंह वडाला और उनके पुत्र विधायक गुरूप्रताप सिंह वडाला के अलावा कैबिनेट मंत्री नवजोत सिद्धू ने इसके लिए निरंतर प्रयास किए थे।

उन्होंने कहा कि कमेटी की तरफ से विधायक गुरप्रताप सिंह वडाला और कैबिनेट मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को सम्मानित किया जाएगा। इस मौके पर उनके साथ हरप्रीत सिंह रोबिन, अमनदीप सिंह बग्गा, प्रभजोत सिंह, जतिंदर सिंह कोहली, रणजीत सिंह गोल्डी, रणजीत सिंह मॉडल हाउस और हरप्रीत सिंह सोनू आदि मौजूद थे।
 

Posted By: Pankaj Dwivedi

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस

ਪੰਜਾਬੀ ਵਿਚ ਖ਼ਬਰਾਂ ਪੜ੍ਹਨ ਲਈ ਇੱਥੇ ਕਲਿੱਕ ਕਰੋ!